महिला सिपाही की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 29 August 2020

महिला सिपाही की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत

राकेश सिंह गोण्डा 

महिला सिपाही की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत

गोण्डा। जिले के मोतीगंज थाने पर तैनात एक महिला सिपाही की आज तड़के संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। उसे लेकर पुलिसकर्मी सीएचसी काजीदेवर गये जहां डॉक्टर नदारद रहे। इस पर आनन-फानन में जिला अस्पताल लेकर पहुंचे जहां देखते ही डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। बताते हैं कि रात्रि में ही महिला आरक्षी की तबीयत अचानक बिगड़ गई थी। उसके शरीर में दर्द होने लगा था। इसकी जानकारी उसने स्टाफ तथा प्रभारी निरीक्षक को दी, लेकिन रात में उपचार की व्यवस्था नहीं हो सकी।

जनपद के थाना मोतीगंज में तैनात महिला सिपाही कनक सिंह (24 वर्ष) मूल रूप से मऊ जनपद की रहने वाली थी। उसकी ससुराल बलिया जिले में है। बताया जाता है कि एक माह पूर्व ही वह पुलिस लाइन से मोतीगंज थाने पर ट्रेनिंग के लिए आई थी। बीती रात अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई। इसकी जानकारी उसने स्टाफ तथा प्रभारी निरीक्षक को दी लेकिन रात में समुचित इलाज की व्यवस्था नहीं हो सकी। बताते हैं कि रात में उसे उल्टियां भी हुईं थीं और पेट में दर्द की भी शिकायत थी। शनिवार को भोर में उसके सिर में तेज़ दर्द होने लगा। इसकी जानकारी उसने हमराही महिला एवं पुरूष सिपाहियों को दी। इसके बाद उसे तड़के इलाज के लिए सीएचसी काजीदेवर लाया गया जहां डॉक्टर नहीं मिले। इस पर वहां से रेफर कराकर जिला अस्पताल पहुंचाया गया जहां देखते ही डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इसकी सूचना उसके परिजनों को दे दी गई है।

इस संबंध में मोतीगंज थाना प्रभारी निरीक्षक कन्हई प्रसाद से संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन बात नहीं हो सकी। वहीं दूसरी तरफ महिला सिपाही की संदिग्ध मौत को लेकर कई सवाल खड़े किए जा रहे हैं। सवाल यह भी है कि जब उसकी तबीयत रात में ही खराब थी तो उसके इलाज की व्यवस्था क्यों नहीं की गई। हालत गंभीर होने पर ही उसे इलाज के लिए क्यों भेजा गया? बहरहाल, सवालों के जवाब के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार करना होगा।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।