बचा सको तो बचा लो', गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की दी धमकी, हुआ गिरफ्तार - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 30 September 2020

बचा सको तो बचा लो', गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की दी धमकी, हुआ गिरफ्तार

कृपा शंकर चौधरी ब्यूरो गोरखपुर

'बचा सको तो बचा लो', गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की दी धमकी, हुआ गिरफ्तार



गोरखपुर। वरिष्ठ पुलिस  को फोन करके एक शख्स ने गोरखनाथ मंदिर उड़ाने की धमकी दी। इसके बाद पुलिस ने फौरन ऐक्शन लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।
बाबरी विध्वंस मामले में स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। फैसले को देखते हुए यूपी के सभी बड़े शहरों में पुलिस हाई अलर्ट है। इस बीच गोरखपुर के एसएसपी को आए एक धमकी भरे फोन ने पुलिस की नींद उड़ा दी। गोरखपुर के एसएसपी को फोन पर गोरखनाथ मंदिर उड़ाने की धमकी मिली। इसके बाद पुलिस ने तेजी से ऐक्शन लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी मानसिक रोगी बताया जा रहा है।
बाबरी विध्वंस केस में फैसला आने के ठीक बाद एक शख्स ने गोरखपुर के एसएसपी को फोन पर धमकी दी। धमकी में कहा गया कि 24 घंटे के अंदर मंदिर को उड़ा देंगे, बचा सको तो बचा लो। धमकी मिलने के बाद जब पुलिस ने नंबर ट्रेस करते हुए जांच की तो बांसगांव के शिवेंद्र सिंह का नंबर निकला। शिवेंद्र ने ही एसएसपी को फोन पर धमकी दी थी। इसके बाद पुलिस ने कार्रवाई की और उसे हिरासत में ले लिया। उधर बाबरी विध्वंस केस में फैसले को देखते हुए गोरखनाथ मंदिर समेत अन्य संवेदनशील इलाकों में पुलिस टीम को तैनात किया गया था। इसके साथ ही शहर में 88 जगहों पर ड्रोन कैमरे से भी निगरानी की जा रही है।
इस बीच मंदिर की सुरक्षा को और चाक-चौबंद किया गया है। तफ्तीश में पता चला है कि आरोपी युवक पहले भी गोरखनाथ मंदिर को उड़ाने की धमकी दे चुका है लेकिन मानसिक रूप से बीमार होने की वजह से पुलिस ने सख्त कदम नहीं उठाया। उधर गोरखपुर के एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने कहा कि मंदिर की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। साथ ही आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है उसके खिलाफ बांसगांव थाना में मुकदमा संख्या 646/20धारा 182 505 507 आईपीसी 7 सी एल ए के अंतर्गत मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा गया।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।