VARANASI काशी में मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली, भगवान राम की आरती कर दिया सुखद संदेश - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 15 November 2020

VARANASI काशी में मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली, भगवान राम की आरती कर दिया सुखद संदेश

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

काशी में मुस्लिम महिलाओं ने मनाई दीपावली, भगवान राम की आरती कर दिया सुखद संदेश




वाराणसी ।प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में मुस्लिम महिलाओं ने दीपावली के पावन पर्व पर भगवान राम की आरती की। मुस्लिम महिलाओं ने हिन्दू महिलाओं के साथ मिलकर भगवान श्रीराम / माता जानकी / लक्ष्मण और हनुमान की महाआरती कर दुनियां को भारत के विश्व बंधुत्व के संदेश से परिचित कराया, इस मौके पर लमही स्थित इंद्रेश नगर में मुस्लिम महिलाओं ने रंगोली बनाया, रंग-बिरंगे दीप सजाये और नाजनीन अंसारी द्वारा उर्दू में रचित श्री राम आरती और श्री राम प्रार्थना का गायन किया। किसी के हाथ में आरती की थाली थी, किसी ने लोहबान जलाया और किसी ने कर्पूर, इस दौरान वातावरण को शुद्ध करने वाली सारी सामग्री जलाई गई ।


सजावटी थाली में आरती सजाकर लय बद्ध तरीके से आरती गाने वाली मुस्लिम महिलाओं ने दुनियां को भारत के सांस्कृतिक संबंध से परिचित कराया। श्रीराम महाआरती कार्यक्रम के मुख्य अतिथि महंत बालक दास जी महाराज ने मुस्लिम महिलाओं के साथ आरती में भाग लिया। आरती के बारे में नाजनीन अंसारी ने कहा कि आज हम सबने मिलकर प्रभु श्रीराम की आरती की क्योंकि भारत में आज जो भी है उनके पूर्वज प्रभु श्रीराम है ।


 उन्होंने बताया कि रामनवमी के अवसर पर पिछले १४ वर्षो से सांप्रदायिक एकता के सूत्र में देश को बांधने के लिए मुस्लिम महिलाएं भगवान श्रीराम की आरती करती आ रही हैं, हनुमान चालीसा फेम नाजनीन अंसारी द्वारा उर्दू में रचित श्रीराम आरती एवं श्रीराम प्रार्थना हर रामनवमी पर मुस्लिम महिलाओं द्वारा गाया जाता है ।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।