बांदा: डीएम की नाराजगी से स्वास्थ समिति की बैठक में खिंचा सन्नाटा,मिली चेतावनी - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 23 December 2020

बांदा: डीएम की नाराजगी से स्वास्थ समिति की बैठक में खिंचा सन्नाटा,मिली चेतावनी

सलिल यादव बांदा

डीएम की नाराजगी से स्वास्थ समिति की बैठक में खिंचा सन्नाटा,मिली चेतावनी

बांदा । जिलास्वास्थ समिति की मासिक बैठक ली तो हड़कंप मच गया। वेलनेस सेंटरों के निर्माण की प्रगति में ढिलाई पर वह काफी नाराज हो गये। डीएम की तल्खी देख उपस्थिति अधकारियो में हलचल सी मच गई।जननी सुरक्षा योजना में आशा कार्यकर्ताओ मानदेय के भुगतान में लापरवाही पर भी वह जमकर बरसे।
कलेक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक में जिलाधिकारी आनंद कुमार सिंह ने खराब प्रगति पर कड़े तेवर दिखाए। कोविड-19 की समीक्षा के दौरान सीएमओ डॉ.एनडी शर्मा ने बताया कि प्रतिदिन 800 आईटीपीसीआर टेस्ट तथा 1200 एंटीजेन व 20 टेस्ट टूनेट मशीन से की जा रही हैं। परिवार नियोजन की प्रगति भी अच्छी रही। आयुष्मान के तहत अभी तक जनपद में 104245 गोल्डेन कार्ड बनाये जा चुके हैं और प्रतिदिन 3000 गोल्डेन कार्ड बनाये जाने का लक्ष्य दिया गया है। हेल्थ वेलनेस सेंटर की प्रगति खराब पाए जाने पर डीएम ने नाराजगी व्यक्त की। वर्ष 2018-19 में 30 वेलनेस सेंटर बनने थे। बताया गया कि 29 बन चुके हैं और एक वेलनेस सेंटर जगह उपलब्ध न होने के कारण ग्राम अर्जुनाह में नही बन पाया। 2019-20 में 44 तथा 2020-21 में 71 वेलनेस सेंटर का निर्माण किया जाना है, जिसमें से अभी तक 60 उपकेंद्रों का निर्माण हो चुका है। उन्होंने आरईएस एक्सईएन को 14 जनवरी तक कार्य पूर्ण कर हैंडओवर करने के निर्देश दिए। बिसंडा, बबेरू, कमासिन, महुआ व नरैनी ब्लाक में जननी सुरक्षा योजना में आशा कार्यकर्ताओं को भुगतान न किये जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की। संबंधित एमओआईसी ने बताया कि सर्वे निरीक्षण न पूरा होने से विलंब हुआ है। नियमित टीकारण अभियान की समीक्षा में नरैनी व महुआ की प्रगति खराब मिली। प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत विकास खंड तिदवारी, नरैनी व बांदा में दूसरी किश्त देरी से दिए जाने पर नाराजगी व्यक्त की। नवीन एचएमआईएस पोर्टल की मासिक समीक्षा में बड़ोखर, तिदवारी व महुआ की प्रगति खराब मिली। नवजात शिशुओं के पंजीयन की स्थिति खराब होने पर एमओआईसी बबेरू को चेतावनी दी।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।