उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गोरखपुर में सूचना विभाग की डिजिटल डायरी/मोबाइल एप को लाॅन्च किया - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 15 January 2021

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गोरखपुर में सूचना विभाग की डिजिटल डायरी/मोबाइल एप को लाॅन्च किया


प्रत्युष गुप्ता

लखनऊ:- उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज गोरखपुर में सूचना विभाग की डिजिटल डायरी/मोबाइल एप को लाॅन्च किया। उन्होंने इस अवसर पर डाक विभाग के विशेष आवरण व विरूपण का विमोचन भी किया।

अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के सूचना विभाग द्वारा सूचना डायरी को डिजिटल डायरी के रूप में विकसित किया जाना सराहनीय है। अब तक यह डायरी पुस्तक के आकार में आती थी। डिजिटल युग में हर चीज डिजिटल फाॅर्म में आ गयी है। इसे ध्यान में रखकर सूचना विभाग की डायरी डिजिटल रूप में तैयार की गयी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि डिजिटल डायरी से कागज की काफी बचत होगी और यह सभी लोगों को सुलभ हो सकेगी। डिजिटल डायरी से कोई भी व्यक्ति अपने स्मार्ट फोन से उत्तर प्रदेश शासन की कार्यपद्धति और विभिन्न विभागों के बारे में जानकारी रख सकता है, उनसे संवाद बना सकता है। अब अलग से डायरी ले जाने की आवश्यकता नहीं होगी। स्मार्ट फोन ही सारी सूचनाओं का आधार हो जाएगा। डिजिटल डायरी को एक अच्छा प्रयास बताते हुए उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों, शासन से जुड़े लोगों, विभागीय अधिकारियों तथा मीडियाकर्मियों आदि के लिए भी नई सहूलियत प्रदान करने वाला यह कार्य हुआ है। उन्होंने इस प्रयास के लिए सूचना विभाग को हृदय से धन्यवाद दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जी का मानना है कि आज का युग तकनीक का युग है। तकनीक व्यक्ति के जीवन में व्यापक परिवर्तन ला सकती है। आज तकनीक को जीवन का हिस्सा बनाये जाने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का बड़ा राज्य है। ऐसे में सभी के पास अपनी पहुंच बनाने के लिए तकनीक अत्यन्त आवश्यक है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के 02 करोड़ 35 लाख किसानों के बैंक खातों में डिजिटल माध्यम से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि अन्तरित की गयी। दिव्यांगजन, निराश्रित महिला, वृद्धावस्था पेंशन लाभार्थियों के खाते में डी0बी0टी0 के माध्यम से धनराशि प्रेषित कर लाभान्वित किया जा रहा है। इसी प्रकार विद्यार्थियों को स्काॅलरशिप भी तकनीक के माध्यम पूरी पारदर्शिता के साथ प्राप्त हो रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री जी ने देश के सभी गरीबों का जनधन खाता खुलवाने का जो कार्य किया, वह कोरोना काल खण्ड में वरदान सिद्ध हुआ। प्रदेश में वापस आये 54 लाख श्रमिकों और कामगारों को मानदेय मुहैया कराने में यह जनधन खाते अत्यन्त मददगार साबित हुए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में पूरा देश कोरोना की लड़ाई में सफलतापूर्वक लड़ रहा है। 16 जनवरी, 2021 को देश में कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य भी प्रधानमंत्री के कर कमलों से प्रारम्भ होने जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को खिचड़ी और मकर संक्रान्ति की बधाई दी। उन्होंने गोरखपुर के खिचड़ी मेले पर स्पेशल डाक कवर जारी करने के लिए डाक विभाग को धन्यवाद देते हुए कहा कि गोरखपुर का खिचड़ी मेला अब डाक विभाग की कार्यसूची का एक हिस्सा बन गया है। ब्रह्मलीन महन्त अवेद्यनाथ जी महाराज की पुण्यस्मृति में जारी किये गये डाक टिकट को स्पेशल डाक कवर में लगाया गया है। डाक विभाग द्वारा देश के विशेष पर्वाें तथा कार्यक्रमों पर जारी किये जाने वाले डाक कवर लोगों को अपनी परम्परा तथा विरासत की स्मृतियों से जोड़ने का महत्वपूर्ण कार्य करते हैं। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेशवासियों को अपनी समृद्ध विरासत एवं परम्पराओं से इसी प्रकार जोड़े जाने की आवश्यकता है।

अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने कहा कि जनप्रतिनिधियों तथा अधिकारियों के बारे में जानकारी की उत्सुकता हर नागरिक में रहती है। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर यह तय किया गया कि आमजन की सहूलियत के लिए इस बार सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की डायरी डिजिटल होनी चाहिए। मुख्यमंत्री की प्रेरणा से सूचना डायरी को एक एप के रूप में विकसित किया गया, ताकि तकनीक के इस युग में सभी को सूचना विभाग की डिजिटल डायरी सुलभ हो सके। अब कोई भी व्यक्ति अपने स्मार्ट फोन में न्च्प्क्प्छथ्व् एप को निःशुल्क इंस्टाॅल कर डिजिटल सूचना डायरी को प्राप्त कर सकेगा। डिजिटल सूचना डायरी व एप को तैयार किया जाना, पूरे देश में पहली बार किया गया इस प्रकार का प्रयास है। उन्होंने कहा कि सूचना विभाग द्वारा डिजिटल डायरी का व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाएगा।

पोस्ट मास्टर जनरल आकाश दीप चक्रवर्ती ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया।
इस अवसर पर विधायक डाॅ0 राधा मोहन दास अग्रवाल, मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी सहित शासन-प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

ज्ञातव्य है कि सूचना डायरी का वर्ष 2021 का संस्करण अब डिजिटल रूप में सर्व सुलभ हो गया है। अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल के मार्गदर्शन तथा सूचना निदेशक शिशिर के निर्देशन व पर्यवेक्षण में सूचना डायरी का डिजिटल संस्करण तैयार करने के लिए सम्बन्धित अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा पूरी प्रतिबद्धता एवं समर्पण के साथ कार्य किया गया। इनमें संयुक्त निदेशक (प्रकाशन) श्री हेमन्त सिंह, उप निदेशक कुमकुम शर्मा, दिनेश सहगल सहित अन्य कर्मी शामिल हैं। इसके लिए सूचना डायरी-2021 का एप बनाया गया, जिसे प्ले स्टोर से स्मार्ट फोन पर इंस्टाॅल कर निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ भारत सरकार तथा राज्य सरकार के मंत्रिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण तथा मीडिया प्रतिनिधियों के फोन नम्बर सहित अन्य विवरण प्राप्त किये जा सकते हैं। इस एप में सर्च आॅप्शन भी प्रदान किया गया है, जिससे कोई भी नाम, पदनाम, दूरभाष आदि डालने पर सम्बन्धित व्यक्ति की डायरी में अंकित समस्त जानकारी उपलब्ध हो जाएगी।

सूचना डायरी राज्य सरकार के सूचना विभाग का एक अत्यन्त लोकप्रिय एवं गौरवशाली प्रकाशन है। सूचना डायरी जनहित में किया जाने वाला प्रकाशन है। जिसमें समस्त आवश्यक सूचनाओं यथा दूरभाष, मोबाइल नम्बर, आवासीय पता, वेबसाइट आदि का समावेश किया जाता है। इसमें संकलित जानकारी का उपयोग करते हुए लोग निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ भारत सरकार तथा राज्य सरकार के मंत्रिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण तथा मीडिया प्रतिनिधियों से आसानी से सम्पर्क कर सकते हैं।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।