GONDA चालीस साल के व्यक्ति ने चार साल की मासूम को बनाया हवश का शिकार - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 31 January 2021

GONDA चालीस साल के व्यक्ति ने चार साल की मासूम को बनाया हवश का शिकार

राकेश सिंह गोण्डा 

चालीस साल के व्यक्ति ने चार साल की मासूम को बनाया हवश का शिकार

गोण्डा। उत्तर प्रदेश के गोण्डा जिले के कौड़िया थाना क्षेत्र में एक चार वर्षीय मासूम के साथ हैवानियत की घटना ने मानवता को तार-तार कर दिया है। घटना के बाद आरोपी फरार हो गया। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीमें लगाई गई हैं।
जिले के कौड़िया थाना क्षेत्र के एक गांव में मानवता की सारी हदें पार करते हुए एक चालीस वर्षीय व्यक्ति ने चार वर्षीय मासूम बच्ची को अपनी हवस का शिकार बना लिया। इस घटना की सूचना मिलते ही क्षेत्र में सनसनी फैल गई। बताया जाता है कि शनिवार की रात गांव में बरही कार्यक्रम में नाच-गाने का प्रोग्राम था।
पीड़िता के परिजनों ने बताया कि गांव के ही अशोक नामक व्यक्ति ने मासूम बिटिया को बिस्किट देने का प्रलोभन दिया और उसे गांव के समीप झाड़ी में ले गया तथा वहां मासूम के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। कुछ देर बाद जब बच्ची के रोने की आवाज आई। इस पर परिजन दौड़कर मौके पर पहुंचे तो देखा कि खून से लथपथ बच्ची दर्द से कराह रही थी। परिजनों ने बताया कि बच्ची ने रो रोकर बताया कि गांव के ही अशोक कुमार नामक व्यक्ति उसे उठाकर ले गया था और उसके साथ गलत काम किया है। परिजनों ने घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी। मौके पर पहुंची कौड़िया पुलिस ने बच्ची को अस्पताल भेजा, जहां मासूम बच्ची की हालत गंभीर बताई जा रही है।
आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित।
करनैलगंज क्षेत्राधिकारी मुन्ना उपाध्याय ने बताया कि मासूम बच्ची को जिला अस्पताल में उपचार के बाद ट्रामा सेंटर भेज दिया गया है। आरोपी की तलाश में पुलिस लगातार दबिश दे रही है। उसकी गिरफ्तारी के लिए टीमें गठित की गई हैं।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।