बलरामपुर पुलिस ने किया हत्या का खुलासा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 27 February 2021

बलरामपुर पुलिस ने किया हत्या का खुलासा

हंसराज शर्मा ब्यूरो बलरामपुर/सुनील कुमार पाण्डेय

 बलरामपुर पुलिस ने किया हत्या का खुलासा

  बलरामपुर- थाना महाराजगंज तराई पुलिस के हत्थे चढ़े हत्यारे             पुलिस को लापता बालक के शव के मामले में अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है अभियुक्त गण को जेल के लिए रवाना किया गया है लापता बालक का शव 11 वे दिन तालाब के पास मिला था यह जानकारी देते हुए अपर पुलिस अधीक्षक अरविंद मिश्र ने बताया कि 16 फरवरी को महाराजगंज तराई थाना क्षेत्र के ग्राम बदलपुर निवासी राजू प्रजापति पुत्र भगवानदीन ने तहरीर देकर सूचना दिया था कि उसका 9 वर्षीय पुत्र सनी 14 फरवरी को दुदुरा में मेला देखने गया था लेकिन वह वापस नहीं आया जिसके काफी खोजबीन की गई लेकिन वह नहीं मिला अपर पुलिस अधीक्षक श्री मिश्रा ने बताया कि 25 फरवरी को उसी गांव के पोखरे में बालक का शव मिला था उक्त मामले में हत्या के मुकदमा पंजीकृत की गई थी जिसकी विवेचना महाराजगंज तराई प्रभारी निरीक्षक  परमानंद तिवारी कर रहे थे विवेचना के दौरान  बदलपुर निवासी विजय कुमार पुत्र जगराम तथा जयनगरा नगर निवासी मुबारक  उर्फ नान उर्फ अरमान  का नाम प्रकाश में आया अपर पुलिस अधीक्षक   ने बताया कि प्रभारी निरीक्षक महाराजगंज तराई उपनिरीक्षक नंद कुमार कनौजिया उप निरीक्षक इंद्रजीत यादव आरक्षी संजीव यादव आरक्षी ललित कुमार के साथ पहुंचकर अभियुक्त गण को परसिया मोड़ तिराहे के पास से 26 फरवरी को गिरफ्तार कर लिया गया है अभियुक्त गणों से पूछताछ के दौरान उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया अभियुक्तगणों ने कबूल किया कि मृतक  के साथ शोषण और उत्पीड़न करते थे मेला देखने के बाद सनी को गन्ने के खेत में ले जाकर गला दबा  दिया शव को बोरे में भरकर उसी रात्रि गांव के तालाब में भर कर फेंक दिया दोनों अभियुक्तों को जेल के लिए रवाना किया  गया है

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।