मुख्य विकास अधिकारी ने निर्वाचन की व्यवस्थाओं के संबंध मे वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से दिए निर्देश - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 22 April 2021

मुख्य विकास अधिकारी ने निर्वाचन की व्यवस्थाओं के संबंध मे वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से दिए निर्देश

ब्यूरो कानपुर देहात:अरविन्द शर्मा

मुख्य विकास अधिकारी  ने निर्वाचन की व्यवस्थाओं के संबंध मे वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से दिए निर्देश

कानपुर देहात।मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पांडेय की अध्यक्षता में वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया गया, इस मीटिंग में  सभी खंड विकास अधिकारी, डीसी मनरेगा, ग्राम रोजगार सेवक, एपीओ इत्यादि ने सहभागिता किया इस मीटिंग का उद्देश्य अति संवेदनशील और अतिसंवेदनशील प्लस मतदान स्थलों में वीडियो कांफ्रेंसिंग कराना साथ ही ग्राम रोजगार सेवकों की नियुक्ति करना जिससे कि जनपद में दिनांक 26 अप्रैल को होने वाले पंचायत चुनाव को शांति पूर्वक संपन्न कराया जा सके,  हमारे जनपद में कुल अतिसंवेदनशील और अतिसंवेदनशील प्लस स्थलों की संख्या 195 की है, इसी को देखते हुए मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में इस बैठक का आयोजन किया गया,इस वर्चुअल मीटिंग में कुछ महत्वपूर्ण बिंदु मुख्य विकास अधिकारी द्वारा   उठाए गए जैसे रोजगार सेवकों के पास कमरों की उपलब्धता कितनी है ?, हमारे पास रोजगार सेवक कितने हैं?, साथ ही रिजर्व कैमरामैन कितने  है?  इस पर डीसी मनरेगा ने बताया कि हमारे यहां 430 ग्राम सेवक और 306 डिजिटल कैमरों की उपलब्धता है जरूरत पड़ने पर हर विकासखंड में पांच 5 ग्राम रोजगार सेवक और डिजिटल कैमरे रिजर्व में भी रखे गए हैं। डीसी मनरेगा को प्रभारी अधिकारी वीडियो ग्राफी नामित किया गया है, नामित अधिकारी द्वारा निर्वाचन की विभिन्न गतिविधियों की कवरेज ग्राम पंचायतों में तैनात रोजगार सेवकों की देखरेख में पंचायतों में उपलब्ध कैमरो के माध्यम से कराई जाएगी। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि हमारा उद्देश्य है पंचायत चुनाव को शांतिपूर्ण और  निष्पक्ष ढंग से कराना, इसी उद्देश्य से मानव और तकनीकी दोनों की सहायता ली जा रही है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।