एनडीए सरकार का 7 वर्ष मौलिक व वैचारिक उपलब्धियों से भरा ऐतिहासिक काल रहा - आशुतोष टंडन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 25 June 2021

एनडीए सरकार का 7 वर्ष मौलिक व वैचारिक उपलब्धियों से भरा ऐतिहासिक काल रहा - आशुतोष टंडन

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

एनडीए सरकार का 7 वर्ष मौलिक व वैचारिक उपलब्धियों से भरा ऐतिहासिक काल रहा - आशुतोष टंडन

सरकार के विकास कार्य पर अपना ध्यान केंद्रित करते हुए विरोधी शक्तियों को मुंहतोड़ जवाब दें

 (भारतीय जनता पार्टी के जिला एवं महानगर के प्रशिक्षण वर्ग के ई चिंतन सत्र में आशुतोष टंडन का संबोधन)

वाराणसी 24 जून। भारतीय जनता पार्टी के जिला एवं महानगर का प्रशिक्षण वर्ग रोहनिया स्थित क्षेत्रीय भाजपा कार्यालय में बुधवार को संपन्न ई चिंतन सत्र में एनडीए सरकार के 7 वर्ष की मौलिक व वैचारिक उपलब्धियों पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री, नगर विकास एवं वाराणसी के प्रभारी मंत्री श्री आशुतोष टंडन ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उनका आह्वान किया कि माननीय मोदी जी के नेतृत्व में 7 वर्षों का कार्यकाल उपलब्धियों से भरा तथा ऐतिहासिक काल रहा है।  

उन्होंने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि केंद्र सरकार के कार्यो पर अपना चिंतन करते हुए ध्यान केंद्रित करें तथा विरोधी शक्तियों को मुंहतोड़ जवाब दें। 
बुधवार को रोहनिया स्थित भाजपा काशी क्षेत्र कार्यालय में उपस्थित जिला एवं महानगर के पदाधिकारी तथा आनलाईन रहे सभी मंडल अध्यक्ष महामंत्री पार्षद एवं पार्षद प्रत्याशियों को संबोधित करते हुए श्री आशुतोष टंडन जी ने कहा कि श्री मोदी जी के नेतृत्व में ऐतिहासिक रूप से जनकल्याण एवं राष्ट्र निर्माण के कार्यों को प्राथमिकता दी गई।  पिछली सरकारों की भावना व साहस नहीं थी कि वह निर्णय ले पाते, जो निर्णय माननीय मोदी जी के नेतृत्व में लिया गया।          
श्री टंडन ने कहा कि 2014 के पूर्व में लूट खसोट, भ्रष्टाचार का काफी बोलबाला था। पिछले 7 वर्षों में देश की दशा बदली है तथा आम जनमानस की धारणा भी बदली है।  केंद्र सरकार ने सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास और एक भारत श्रेष्ठ भारत को साकार करने के लिए हर कार्यों को क्रियान्वित कराया। 

उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों ने अपने वोट बैंक की चिंता करते हुए अल्पसंख्यक महिलाओं का उत्पीड़न होने दिया जिससे कि तीन तलाक पर फैसला नहीं कर पाई, मगर माननीय मोदी जी ने तीन तलाक को समाप्त कर मुस्लिम बहनों को उनका हक दिलाया। 

श्री टंडन ने कहा कि माननीय मोदी जी और गृह मंत्री माननीय अमित शाह जी का ही देन है कि जम्मू कश्मीर से  धारा 370 एवं 35a को समाप्त कर किया गया। वहां अनुसूचित जाति जनजाति को जम्मू कश्मीर में आरक्षण का अधिकार नहीं मिलता था। पीएम मोदी जी ने जम्मू-कश्मीर व लद्दाख को देश की मुख्यधारा में जोड़ा। नागरिकता संशोधन कानून बनाकर आजादी के बाद से उत्पीड़न सहते रहे वर्षों पहले आए शरणार्थियों को भी गले लगाकर उन्हें जीने का अधिकार प्रदान किया। माननीय मोदी जी ने अयोध्या में भगवान श्री राम जी का मंदिर 5 सदियों के बाद उसका शिलान्यास व भूमि पूजन किया। यह राम मंदिर राष्ट्र के सांप्रदायिक सौहार्द का प्रतीक बनेगा तथा विश्व का सबसे बड़ा तीर्थ स्थल बनेगा। 

श्री टंडन जी ने कहा कि आतंकवाद पर नियंत्रण करके पड़ोसी देशों के साथ मधुर संबंध बनाए रखा। उन्होंने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक के माध्यम से भी मुंहतोड़ जवाब दिया। लगभग 15000 किलोमीटर से ज्यादा सीमाएं हैं, जिन्हें सुरक्षित करने का कार्य चल रहा है। 2008 से 2014 तक केवल एक सुरंग थी।  2014 से 2020 तक श्री मोदी जी के नेतृत्व में 6 सुरंगे बनाई गई तथा अभी भी 20 सुरंगों पर कार्य चल रहा है। 

उन्होंने कहा कि श्री मोदी जी ने पूरे विश्व में भारत का गौरव बढ़ाया है। माननीय मोदी जी की ही देन है कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस प्रारंभ हुआ। 
उन्होंने कहा कि अगर मौलिक उपलब्धियों की चर्चा की जाए तो 42 करोड़ जनधन खाता खोला गया तथा उन्हें बैंकों के माध्यम से मुख्यधारा में जोड़ा गया। सरकार की ओर से मिलने वाले धनराशि सीधे उनके खाते में पहुंचने लगी, जबकि पहले आम नागरिक तक आते-आते लगभग 80% खत्म हो जाते थे। 

उन्होंने कहा कि श्री मोदी जी के नेतृत्व में स्वच्छ भारत अभियान के तहत 11 करोड़ शौचालय बनाए गए। उज्जवला योजना के तहत महिलाओं को निशुल्क गैस सिलेंडर और सौभाग्य योजना के अंतर्गत निशुल्क बिजली का कनेक्शन भी दिया गया। आयुष्मान भारत जिसमें कि ₹500000 तक का चिकित्सा सुरक्षा प्रदान की जाती है, ऐसे लगभग 10 करोड़ परिवारों को लाभान्वित किया गया। किसानों के लिए किसान सम्मान निधि जिसमें की पहली बार 12 करोड़ किसान लाभान्वित हुए हैं, लागू किया गया। जल जीवन मिशन के अंतर्गत सात करोड़ से ज्यादा परिवारों को निशुल्क पानी दिया जा रहा है। 

श्री टंडन ने आगे कहा कि शीघ्र ही माननीय मोदी जी के नेतृत्व में सभी को पानी की सुविधाएं शीघ्र अति शीघ्र प्रदान होगी। 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत करोड़ों लोगों को छत उपलब्ध कराई गई। उन्होंने कहा कि पहले देश में मॉस्क, पीपीई किट बनता ही नहीं था। आज यह हालात है कि मास्क और बीपी तो बन ही रहे हैं बल्कि निर्यात भी हो रहे हैं।  
उन्होंने कहा कि माननीय मोदी जी वैश्विक महामारी कोरोना से निबटने में किसी प्रकार का कोई भी कोर कसर नहीं छोड़ा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से 80 करोड़ लोगों तक दीपावली तक 5 किलो अनाज निशुल्क दिए जाने है। 
श्री टंडन ने कहा कि विश्व का सबसे बड़ा और सबसे तीव्र अभियान वैक्सीनेशन का कार्यक्रम चल रहा है। केंद्र सरकार 18 वर्ष के ऊपर के सभी लोगों को वैक्सीन स्वयं उपलब्ध करा रही है। वैक्सीन का भारी उत्पादन तो हो ही रहा है, पड़ोसी देशों को भी भारत वैक्सीन उपलब्ध करा रहा है। 

श्री टंडन ने कहा कि माननीय मोदी जी के नेतृत्व में शिक्षा चिकित्सा उद्योग उद्योग व्यापार जगत के क्षेत्र में भी अनेक उपलब्धियां हासिल हुई है।
 वर्चुअल और फिजिकल बैठक के प्रारंभ में महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय ने कार्यक्रम के मुख्य वक्ता श्री आशुतोष टंडन जी का परिचय कराया।‌ कार्यक्रम का संचालन महानगर उपाध्यक्ष एडवोकेट अशोक कुमार तथा धन्यवाद ज्ञापन जिला अध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने किया।   
 महानगर मीडिया प्रभारी किशोर कुमार सेठ के अनुसार बैठक में सुरेंद्र पटेल संजय सोनकर देवेंद्र सिंह गौतम नवीन कपूर राहुल सिंह अशोक पटेल जगदीश त्रिपाठी प्रभात सिंह आत्मा विशेश्वर मधुकर चित्रांश साधना वेदांती डॉ गीता शास्त्री इंजीनियर अशोक यादव अभिषेक मिश्रा डॉ अनुपम गुप्ता बृजेश चौरसिया रौनी वर्मा नीरज जायसवाल दिलीप साहनी विवेक मौर्य किशन कनौजिया मधुप सिंह डॉ रचना अग्रवाल धीरज गुप्ता शैलेंद्र मिश्रा सोनू और आईटी के महानगर संयोजक कुणाल पांडेय सहित सभी मंडल अध्यक्ष महामंत्री पार्षद एवं पार्षद प्रत्याशी शामिल रहे।



No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।