जिलाधिकारी ने की टीम-9 की समीक्षा, दिये निर्देश - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 1 June 2021

जिलाधिकारी ने की टीम-9 की समीक्षा, दिये निर्देश

ब्यूरो कानपुर देहात:अरविन्द शर्मा

जिलाधिकारी ने की टीम-9 की समीक्षा, दिये निर्देश

कानपुर देहात।जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में टीम -9 की समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में इस बात की जानकारी मिली की जनपद में लगातार मरीजों की संख्या घट रही है। आज जनपद में कुल 3 पाॅजिटिव मरीज आये है। अब जनपद में कुल 43 मरीज बचे है। इसके अलावा कुल 38 कन्टेन्टमेन्ट जोन बचे है, जहां पर लगातार सेनेटाइजेशन हो रही है, 59 स्थानों पर वैक्सीनेशन हो रहा है। निगरानी समिति सदस्यों को निर्देशित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि बाढ़ के समय पेयजल की भीषण समस्या उत्पन्न हो जाती है, इसी लिए इस समस्या से निपटने के लिए उन स्थानों को ऊॅंचा बनाया जाये जहां पर पेयजल के लिए हैण्डपंप इत्यादि की स्थापना की गयी है। डा0 प्रमोद तिवारी द्वारा बताया गया कि आईसीसीसी से 402 आटगोइंग काॅलिंग की गयी है और 5 इंनकमिंग काॅले आयी है। एडीएम वित्त एवं राजस्व साहब लाल ने बताया कि 52 नाविकांे का पंजीकरण के साथ अब जनपद में 12697 श्रमिकों की फीडिंग हो चुकी है। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को सचेत करते हुए कहा कि जिम्मेदार अधिकारी कार्यो का निरीक्षण लगातार करते रहे उसमें किसी प्रकार की कोई लारवाही न बरते, जनपद में कर्फू में ढील देने के बावजूद भी इस बात को सुनिश्चित कर ले कि नागरिक कोविड-19 के नियमों का पालन अवश्य करते रहे। मुख्य चिकित्सा अधिकारी की आॅक्सीजन प्लान्ट के सम्बन्ध में किये गये प्रयासों से जिलाधिकारी संतुष्ट दिखे, इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी सौम्या पाण्डेय, एडीएम प्रशासन पंकज वर्मा, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व साहब लाल, सीएमओ डा0 राजेश कटियार, जिला सूचना अधिकारी नरेन्द्र मोहन आदि उपस्थित रहे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।