लोकतंत्र पर भारी पड़ा धनबल और बाहुबल, 4 सीटों पर कब्जाकर किंगमेकर बने सांसद कीर्तिवर्धन सिंह - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 10 July 2021

लोकतंत्र पर भारी पड़ा धनबल और बाहुबल, 4 सीटों पर कब्जाकर किंगमेकर बने सांसद कीर्तिवर्धन सिंह

राकेश सिंह गोंडा 

लोकतंत्र पर भारी पड़ा धनबल और बाहुबल, 4 सीटों पर कब्जाकर किंगमेकर बने सांसद कीर्तिवर्धन सिंह

गोण्डा। क्षेत्र पंचायत सदस्यों से लेकर ब्लॉक प्रमुखी के चुनाव तक सत्ता और रसूख के साथ-साथ धनबल व बाहुबल का जो खेल खेला गया, उससे लोकतंत्र न सिर्फ कमजोर दिखाई दिया, बल्कि इसने राजनीति में नयी परंपरा की पटकथा भी लिख दी है। वैसे, इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि आने वाले समय में यहां ‘जिसकी लाठी, उसकी भैंस’ की कहावत चरितार्थ होगी।
गोण्डा जिले के 16 में से 15 ब्लॉक प्रमुख पद के लिए चल रही चुनाव प्रक्रिया पर धनबल और बाहुबल भारी पड़ा है। मुजेहना को छोड़कर अन्य 15 ब्लॉकों में चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी की गई थी। भाजपा ने सभी ब्लॉकों में प्रमुख पद के लिए अपने प्रत्याशी उतारे थे। इनमें से अधिकांश दावेदारों में सांसदों, विधायकों के परिजन या समर्थक शामिल थे। चुनाव से पहले ही कई ब्लॉकों में तस्वीर साफ हो गई थी, जहां अपने रसूख और सत्ता की हनक का लोहा मनवाने के लिए माननीयों ने चारों हथकंडे अपनाए थे।

तीन ब्लॉक प्रमुख बनाकर बाहुबली सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने भी कायम रखा दबदबा

गुरुवार को नामांकन प्रक्रिया पूरी होते ही तस्वीर साफ हो गई। जिले के 11 ब्लॉकों में अकेले भाजपा समर्थित उम्मीदवारों का नामांकन होने के कारण निर्विरोध निर्वाचन तय हो गया। मनकापुर, छपिया, इटियाथोक व पण्डरी कृपाल ब्लाकों के प्रमुख पद पर गोण्डा सांसद कीर्तिवर्धन सिंह ने अपना दबदबा कायम किया। यहां उनके समर्थित प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित हुए हैं। वहीं नवाबगंज ब्लॉक प्रमुख पद पर कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने अपने छोटे भाई की पत्नी, झंझरी में निवर्तमान प्रमुख रेखा मिश्रा तथा वजीरगंज ब्लॉक पर अपने करीबी पूर्व राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त रामबहादुर सिंह द्वारा समर्थित प्रत्याशी को निर्विरोध निर्वाचित कराने में कामयाब रहे। इसके साथ ही तरबगंज विधायक प्रेमनारायण पाण्डेय, करनैलगंज विधायक कुंवर अजय प्रताप सिंह, मेहनौन विधायक विनय कुमार द्विवेदी ने भी साम, दाम, दण्ड, भेद अपनाकर प्रमुखी पर निर्विरोध निर्वाचन करा लिया। जिले के चार ब्लाकों को छोड़कर 11 ब्लाकों की प्रमुखी पर काबिज होने के लिए धनबल व बाहुबल का खुल्लम-खुल्ला खेल खेला गया, जिसने लोकतंत्र के कद को बौना कर दिया।

यहां निर्विरोध निर्वाचित हुए ब्लॉक प्रमुख

कैसरगंज सांसद बृजभूषण शरण सिंह की अनुजवधु अरुंधती सिंहतरबगंज में भाजपा विधायक प्रेमनरायन पांडेय के बड़े बेटे मनोज कुमार पांडेयबेलसर में स्वर्गीय पप्पू सिंह परास के भाई राजेंद्र प्रताप उर्फ गुड्डू सिंहकर्नलगंज में विधायक अजय प्रताप सिंह उर्फ लल्ला भैया की समर्थक तिलका देवी व परसपुर में प्रियंका सिंहझंझरी में बृजभूषण शरण सिंह समर्थित रेखा मिश्रापंडरी कृपाल में गोण्डा सांसद के करीबी पूर्व प्रमुख राजीव कुमार उर्फ बिट्टू सिंह की समर्थक प्रियंका गौतमइटियाथोक में राजा भैया के करीबी मेहनौन विधायक विनय द्विवेदी की पत्नी पूनम द्विवेदीमनकापुर में सांसद कीर्तिवर्धन सिंह के समर्थक जगदेव चौधरी व छपिया में अनिल कुमार पासवान उर्फ नीलू

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।