ब्लैक लिस्टेड विद्यालयों को किसी भी स्थिति में परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाए -डॉ. दिनेश शर्मा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 8 September 2018

ब्लैक लिस्टेड विद्यालयों को किसी भी स्थिति में परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाए -डॉ. दिनेश शर्मा





मीडिया डेस्क 

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की हाई स्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2019 का आयोजन फरवरी में होगा। परीक्षा की समय सारणी अगले सप्ताह तक जारी की जाएगी। उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि फरवरी में ही परीक्षा संपन्न हो जाएगी। उन्होंने कुंभ स्नान के मुख्य दिनों में परीक्षा नहीं कराने के निर्देश दिए हैं।

शुक्रवार को विधान भवन स्थित अपने कक्ष में आयोजित बैठक में डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा कि ब्लैक लिस्टेड विद्यालयों को किसी भी स्थिति में परीक्षा केंद्र नहीं बनाया जाए। परीक्षा केंद्रों का निर्धारण कक्ष क्षमता के अनुरूप किया जाए और उसी के अनुसार परीक्षार्थी आवंटित किए जाएं। एक ही सोसाइटी या प्रबंधन के विद्यालयों के विद्यार्थियों को उनके ही विद्यालयों में परीक्षा केंद्र नहीं दिया जाए।

उन्होंने बीते तीन वर्षों से बोर्ड परीक्षा में सम्मिलित नहीं हुए विद्यालयों को भी परीक्षा केंद्र नहीं बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने परीक्षा केंद्रों पर स्टेटिक मजिस्ट्रेट तैनात करने, परीक्षा कक्ष में बैक और फ्रंट कैमरा के साथ-साथ वॉइस रिकॉर्डर की व्यवस्था सुनिश्चित कराने को भी कहा।

उप मुख्यमंत्री ने अभियान चलाकर माध्यमिक विद्यालयों में पढ़ाई और पाठ्यक्रम पूरा किए जाने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि जिन विद्यालयों में पठन-पाठन नहीं हो रहा है, उन्हें चिह्नित करें

 घटे नौ लाख परीक्षार्थी

डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि 2018 बोर्ड परीक्षा में 67 लाख 22 हजार परीक्षार्थी पंजीकृत हुए थे। वहीं, नकल पर सख्ती के कारण पंजीकरण की तिथि 15 दिन बढ़ाने के बाद भी बोर्ड परीक्षा 2019 के लिए केवल 57 लाख 87 हजार परीक्षार्थी ही पंजीकृत हुए हैं। समीक्षा बैठक में अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा संजय अग्रवाल, सचिव माध्यमिक शिक्षा संध्या तिवारी तथा सचिव माध्यमिक शिक्षा परिषद इलाहाबाद नीना श्रीवास्तव मौजूद थे।  

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।