कांस्टेबल के नशे में होने के आरोपों के बाद कांस्टेबल को हटाया - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 25 September 2018

कांस्टेबल के नशे में होने के आरोपों के बाद कांस्टेबल को हटाया

मीडया डेस्क 
 


उत्तर प्रदेश के अमेठी के मुसाफिरखाना में एक अतिथि गृह में वीआईपी सुरक्षा में तैनात उत्तर प्रदेश पुलिस के एक कांस्टेबल को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सुरक्षा में तैनात एसपीजी कर्मियों से बहस करने के बाद वहां से हटा दिया गया है. राहुल गांधी दो दिनों के अमेठी दौरे पर हैं और रात में उनका इसी अतिथि गृह में रूकने का कार्यक्रम था.

अमेठी के पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि वीआईपी की सुरक्षा में सादी वर्दी में तैनात एसपीजी कर्मियों को पुलिस कांस्टेबल द्वारा गलत फहमी में रोके जाने के कारण ऐसा हुआ.



एसपी ने बताया कि एसपीजी जवानों के कांस्टेबल के नशे में होने के आरोपों के बाद कांस्टेबल को चिकित्सकीय परीक्षण के लिए मुसाफिरखाना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भेजा गया. जांच में सामने आया कि कांस्टेबल नशे में नहीं था. एसपी ने कहा कि उसकी जगह दूसरे कांस्टेबल को तैनात किया गया है.

आपको बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सोमवार की सुबह लखनऊ के अमौसी हवाई अड्डे पहुंचे, जहां से सड़क मार्ग से अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंचे. अमेठी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया. पूरे जिले में कांग्रेसी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने 'शिव भक्त राहुल गांधी’ का स्वागत है, जैसे अनेक होर्डिंग लगाए हैं. 2019 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में महागठबंधन की संभावनाओं के बीच राहुल गांधी के इस अमेठी दौरे का महत्व काफी बढ़ गया है.


अमेठी में 'शिवभक्त के रूप में गांधी का स्वागत' करने की तैयारी पहले से ही थी, लेकिन स्थानीय कांग्रेस पदाधिकारी इससे लगातार इनकार करते रहे. गांधी के स्वागत का सोमवार जो नजारा दिखा, वह पहले कभी नजर नहीं आया था. इसने एक अलग तरह का संदेश भी दिया. अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान वह जिला सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक में हिस्सा लेंगे. इसके अलावा वह पार्टी नेताओं तथा कार्यकर्ताओं के साथ बैठक भी करेंगे !

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।