पुलिस ने मारा छापा 7 लोगों को जुआ खेलते पकड़ा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 2 October 2018

पुलिस ने मारा छापा 7 लोगों को जुआ खेलते पकड़ा

 
 
रिपोर्ट--मोबीन मन्सुरी
 
 
कन्नौज-सालों से एक मकान में चल रहा जुए के अड्डे पर पुलिस ने छापामार कर कांग्रेस नगर अध्यक्ष समेत 7 लोगों को जुआ खेलते पकड़ लिया। तलाशी में आरोपियों के पास से ताश की गड्डी के साथ ही छह हजार रुपये बरामद हुए। पुलिस ने सभी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बाद मुचलके पर छोड़ दिया। वहीँ इस मामले की जानकारी आते ही कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने नगर अध्यक्ष की करतूत के बारे में पार्टी हाईकमान को अवगत करा दिया।   
 
 
 
कन्नौज जिले के तिर्वा कस्बे में खैर नगर रोड काली मंदिर के पास कालिका नगर स्थित एक मकान पर पुलिस को जुआ खेले जाने की सूचना मिली। पुलिस ने मकान की दूसरी मंजिल पर छापेमारी कर यहां से इंदिरा नगर निवासी कांग्रेस नगर अध्यक्ष लियाकत अली, बौद्ध नगर के माधव सिंह, पन्नापुरवा के रामदत्त, गांधीनगर के सुरेंद्र कुमार, नथापुरवा के रघुवीर सिंह, आजाद नगर निवासी आमिर खान व सुभाष नगर के राजेश को हिरासत में ले लिया और थाने ले आई। यहां से पुलिस को ताश की गड्डी के अलावा छह हजार रुपये मिले।

इन आरोपितों को छुड़ाने के लिए कई सत्ताधारी नेताओं से लेकर विपक्षी दलों के लोग भी लगातार पुलिस से पैरवी करते रहे। मामला तूल पकड़ने पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया। इसके बाद आरोपितों को मुचालका पर छोड़ दिया गया है। वहीं इस मामले में कांग्रेस के जिला अध्यक्ष विजय मिश्रा का कहना है कि मामले के बारे में पार्टी हाई कमान को सूचना दे दी गई है। उन्हें पार्टी ने नगर अध्यक्ष पद से हटा दिया है। उनके इस कृत्य से पार्टी की छवि धूमिल हुई है।

तिर्वा कस्वे के एक मकान में किराए पर कमरा लेकर ये जुआ का अड्डा पिछले तीन सालों से पुलिस के संरक्षण और कांग्रेस नगर अध्यक्ष की देखरेख में चल रहा था। नगर अध्यक्ष ने मोहल्ला कालिका नगर निवासी बाबूजी के मकान में दूसरी मंजिल पर कमरा किराये पर लिया था। उन्होंने इसे जुआ का अड्डा बना दिया। रोजाना 10 लाख रुपये का यहां दांव खेला जाता था। इसका दो फीसद रुपया कमरा का किराया, पुलिस को हफ्ता और खान-पान के नाम से वसूला जाता था। कोतवाली प्रभारी आमोद कुमार सिंह की माने तो मामले की जांच की जा रही और हफ्ता कौन पुलिस कर्मी लेता था, इसकी भी पड़ताल हो रही। सच्चाई सामने आने पर उस कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


No comments:

Post a Comment