अयोध्या - प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में श्रद्धालु पंचकोसी परिक्रमा करने आते हैं - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 18 November 2018

अयोध्या - प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में श्रद्धालु पंचकोसी परिक्रमा करने आते हैं

रिपोर्ट - बलराम चौरसिया  

चकोसी परिक्रमा आज  प्रारम्भ हो रही है। इसके समापन का शुभ मुहूर्त19 नवम्बर अपरान्ह 12 बजे तक रहेगा। प्रतिवर्ष लाखों की संख्या में श्रद्धालु पंचकोसी परिक्रमा करने आते हैं। इस परिक्रमा में बाहरी श्रद्धालुओं के अलावा स्थानीय जन भी बड़ी संख्या में हिस्सा लेते हैं, जिसके कारण परिक्रमार्थियों का आंकड़ा कई लाख  पहुंच जाता है।



 जो प्रशासन के लिए बहुत ही चुनौतीपूर्ण भरा होता है। यह परिक्रमा 15 किमी. की परिधि में होती है। पंचकोसी परिक्रमा को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए हैं। जो पूरे अयोध्या क्षेत्र के बाहर-बाहर होती है। परिक्रमार्थी परिक्रमा के शुभ मुहूर्त पर ही अपनी परिक्रमा उठाता है और समापन के मुहूर्त के अन्दर ही पूरी करता है। उसके बाद लोग पतित पावनी सरयू सलिला में पुण्य की डुबकी लगाते हैं। तत्पश्चात बड़ी संख्या मे श्रद्धालु प्रचीन नागेश्वरनाथ मन्दिर में भोले बाबा का जलाभिषेक करते हैं। उसके बाद उनका कारवां हनुमानगढ़ी, कनक भवन, श्रीरामजन्मभूमि समेत अन्य प्रमुख मन्दिरों की ओर बढ़ चलता है। 

जहां श्रद्धालुओं की इतनी भीड़ रहती है कि वहां फेंकने की रत्ती भर जगह नही बचती। सम्पूर्ण परिक्रमा क्षेत्र समेत अन्य मेला वाले क्षेत्रों में पुलिस बल के जवान तैनात किए गए हैं। इसके अलावा ज्यादा भीड़-भाड़ वाले, संकरे स्थानों,प्रमुख मठ-मंदिरो व सरयू स्नान घाटों पर भारी मात्रा में पुलिस बल की तैनाती की गई है, जिससे किसी अप्रिय घटना से बचा जा सके और परिक्रमार्थियों को किसी भी प्रकार की दिक्कतें न हो। ड्रोन कैमरों तथा एटीएस कमाण्डों के द्वारा भी परिक्रमा मेलें में निगरानी की जा रही है। 


सम्पूर्ण परिक्रमा क्षेत्र को सेक्टर के हिसाब से बांटा गया है। जहां सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती जिला प्रशासन ने की है। इसके अलावा बड़ी व छोटी गाड़ियों को शहर के बाहर अस्थाई टैक्सी स्टैंड बनाकर रोक दिया गया है। अधिकारी और कर्मचारी परिक्रमा की तैयारी को अंतिम रूप देने में लगे हुए हैं।

   

No comments:

Post a Comment