कानपुर - 6 दिसम्बर को सपा ने मनाया, ब्लैक दे - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 6 December 2018

कानपुर - 6 दिसम्बर को सपा ने मनाया, ब्लैक दे

ब्यूरो कानपुर -  रवि गुप्ता 

समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने 6 दिसम्बर बाबरी मस्जिद विध्वंस की वर्षी के मौके पर नवीन मार्केट स्थित सपा कार्यालय में इस दिन को हाथों में काली पट्टी बांधकर कलंक दिवस के रूप में मनाया समाजवादी पार्टी नगर अध्यक्ष के नेतृत्व में आज सपा पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं के साथ 6 दिसम्बर को कलंक दिवस के रूप में मनाया गया । 6 दिसम्बर 1992 कुछ साम्प्रदायिक ताकतों ने अपने निजी स्वार्थ के लिए बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराकर देश के संविधान की धज्जियां उड़ाई गयी और विश्व पटल पर देश का  नाम कलंकित किया 6 दिसम्बर का दिन देश के माथे पर एक कलंक बन गया। 

 
 सपा नगर अध्यक्ष मोइन खान ने बताया कि 6 दिसम्बर 1992 में आज के दिन बाबरी मस्जिद की शहादत हुई कुछ साम्प्रदायिक शक्तियों ने देश के सम्विधान को ध्वस्त करने का काम किया और देश में अराजकता का माहौल बना डाला  उस वक्त प्रदेश में कल्याण सिंह की सरकार थी और उस दिन वह देश के सम्विधान की रक्षा नही कर सके बाबरी मस्जिद की शहादत हो गयी जबकि वहाँ पैरामिलिट्री फोर्स को होना चाहिए था। देश मे हिन्दू मुस्लिम भाइ चारे में दरार डालने के लिए एक सोची समझी साजिश के तहत यह कार्य किया गया। इस मामले को 26 वर्ष बीत चुके है आज समाजवादियों ने इस दिन को काली पट्टी बांधकर ब्लैक डे के रूप मे मनाने का काम किया। भाजपा के लोगों को ललकारने का काम किया है देश की जनता त्राहिमाम कर रही है रोजगार नही है आज किसान, मजदूर व्यापारी, युवा सब त्रस्त है ,अन्न का दाना नही है , साम्प्रदायिक कारण खत्म होना चाहिए, ध्रुवीकरण समाप्त होना चाहिए।


बुलंदशहर में जिस तरह से कोतवाल को हिंसक भीड़ ने निशाना बनाया यह बहुत अत्यंत निंदनीय है।  ड्यूटी के दौरान जिस तरह से कोतवाल ने अपना दायित्व निभाया और उस घटना को बड़ी घटना में तब्दील होने से बचाया ऐसे वीर शहीद सुबोध सिंह को हम सैल्यूट करते हैं।

No comments:

Post a Comment