दलित की समाजवादी पार्टी के गुण्डों द्वारा इस तरह निर्मम पिटाई पर तथाकथित महागठबंधन अब चुप क्यों ..अशोक पाण्डेय - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 22 December 2018

दलित की समाजवादी पार्टी के गुण्डों द्वारा इस तरह निर्मम पिटाई पर तथाकथित महागठबंधन अब चुप क्यों ..अशोक पाण्डेय

चीफ रिपोटर UP - चन्द्र मोहन तिवारी 

जौनपुर जिले में सपा विधायक एवं उनके भाई द्वारा दलित महिला को बुरी तरह पिटाई करकेे, जान से मारने के प्रयास की उत्तर प्रदेश भाजपा ने घोर निंदा की है। प्रदेश प्रवक्ता अशोक पाण्डेय ने कहा कि यह नारा चरीतार्थ हो गया है कि जिस गाड़ी पर सपा का झण्डा, समझों उसमें बैठा गुण्डा । जिस तरह से दलित महिला की पिटाई सरेआम की गई। वह जमीदारी प्रथा की यादे ताजा करता है। पाण्डेय ने कहा कि दलित की समाजवादी पार्टी के गुण्डों द्वारा इस तरह निर्मम पिटाई पर तथाकथित महागठबंधन अब चुप क्यों है ? 


प्रदेश प्रवक्ता अशोक पाण्डेय ने कहा कि समाजवादी पार्टी मूलत दलित विरोधी है। चाहे मायावती  को स्टेट गेस्ट हाउस में मारने का प्रयास रहा हो, चाहे बाबा साहब भीमराव आम्बेडकर की मूर्तियां तोड़ने का,चाहे दलितों को यह कहना कि बाबा साहब की मूर्ति को रखकर दलित जमीनों पर कब्जे करते है। भारतीय जनता पार्टी ने बाबा साहब से जुडे़ हुए स्थानों को पंच तीर्थ के रूप में विकसित किया है। भीम एप को बाबा साहब को समर्पित किया है।

प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि केन्द्र सरकार की विभिन्न योजनाओं जैसे, प्रधानमंत्री उज्ज्वला गैस योजना के तहत गरीबों को मुफ्त गैस कनेक्शन एवं सिलेण्डर सौभाग्य योजना के तहत हर घर को बिजली, स्वच्छता अभियान के तहत हर घर को शौचालय, प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत कई करोड़ बैंक खाते खोले गए, हर जिले में कम से कम दो मुद्रा लोन अनुसूचित जाति, जनजाति के लोगों को देना जरूरी किया, प्रधानामंत्री आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) के तहत करीब 10 करोड़ परिवारों के लगभग 50 से 55 करोड़ लोगों को मुफ्त चिकित्सा सुविधा प्रदान की जा रही है। अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं से समाज के सबसे पिछले पायदान पर खडें आमजन को फायदा पहुंचा है जिससे सर्वाधिक संख्या अनुसुचित जाति/जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग समाज से है।

No comments:

Post a Comment