कानपुर-- बिठूर खेल महोत्सव में प्रतिभागियों ने दिखाया अपना हुनर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 19 December 2018

कानपुर-- बिठूर खेल महोत्सव में प्रतिभागियों ने दिखाया अपना हुनर


ब्यूरो कानपुर - रवि गुप्ता
 
मंगलवार से बिठूर महोत्सव का शुभराम हो गया है जिसके बाद महोत्सव में होने वाले अलग अलग कार्यक्रमो को लेकर बुधवार को ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेल महोत्सव का आयोजन किया गया। जहाँ शहर और अन्य जिलों से आये कई कॉलेजों के  छात्र छात्राओं ने  खेल महोत्सव में आयोजित प्रतियोगिताओ का हिस्सा बन कर अपने अपने खेलो में जोर शोर से अपने हुनर को दर्शाया। बिठूर खेल महोत्सव  2018 का शुभारंभ ग्रीन पार्क से  मण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा , जिलाधिकारी विजय विश्वास पन्त अपर जिलाधिकारी विवेक श्रीवास्तव और सिटी मजिस्ट्रेट ने किया।
 
 
 
खेल महोत्सव में 11 खेलो को सम्लित  किया गया है जिसमें लगभग 1000 खिलाड़ी खेलेंगे जिनको प्रथम द्वितीय तथा तृतीय आने पर सीनियर खिलाड़ियों द्वारा पुरस्कृत किया जायेगा। इस अवसर पर मण्डलायुक्त सुभाष चन्द शर्मा ने अपने सम्बोधन में कहा कि इस खेल महोत्सव में 11 प्रकार के खेलों को शामिल किया गया है  समस्त खिलाड़ी खेल की भावना से अपना खेल  खेले हार जीत तो लगी ही रहती है खिलाड़ी को पूरी ईमानदारी के साथ अपने खेल का प्रदर्शन करना चाहिए।  
 
 
 
 
जिलाधिकारी  विजय विश्वास पन्त ने बताया  कि जल्द ही ग्रीन पार्क में स्विमिंग पुल, गन शूटिंग तथा अन्य और भी खेलों से संबंधित सुविधाओं से ग्रीन पार्क को लैस किया जाएगा ताकि यहां पर आने वाले खिलाड़ियों को सुविधा मिल सके और वह बच्चे देश दुनिया में अपना नाम रोशन कर सकेंगे। सुबह खिलाड़ियों का मैराथन प्रतियोगिता हुई जिसमें प्रथम द्वितीय तथा तृतीय आने वाले खिलाड़ियों को मंडलायुक्त ने नगद धनराशि देकर पुरस्कृत किया।
 
 
 
 
वही इस खेल महोत्सव में ताइक्वांडो ,कबड्डी और कुश्ती, जुडो, बैडमिंटन समेत तमाम खेल आयोजित किये जा रहे है जिसमें ताइक्वांडो में शहर भर के तमाम छोटे छोटे बच्चो ने हिस्सा लिया और अपना हुनर दिखाया ताइक्वांडो कोच सुशांत गुप्ता ने बताया कि यहां करीब 65 बच्चों ने 6 से 12 साल तक के बच्चो ने ताइक्वांडो में हिस्सा लिया है और यहां उनका जुनून एक ही बात की तरफ इशारा कर रहा है कि आत्मरक्षा के लिए अभी से इन बच्चो के अंदर जुनून दिखाई दे रहा है। कबड्डी की कोच पूनम द्विवेदी ने बताया कि यहां 22 टीमो ने अलग अलग जगह से आई हुई है जोश के साथ लड़के और लड़कियों की टीमो ने हिस्सा लिया है
 
 
 
आजकल प्रो कबड्डी देश में जिस तरह बढ़ रहा है बच्चे काफी इनकरेज है खेल बहुत जरूरी है कोई भी खेल हो एक तो आजकल की तनाव भरी जिंदगी से छुटकारा पाने में खेल मंदद करता है दूसरा खेलो की तरफ युवा पीढ़ी का बढ़ता रुझान आत्मविश्वास बढ़ाने के साथ साथ उनके रोजगार में भी मदद करता है। वही कुश्ति के कोच और सचिव राजकुमार यादव ने बताया कि कानपुर की पहलवानी का एक इतिहास रहा है यहां से निकले पहलवानों ने हर जगह महारथ हासिल की है उसी का प्रेरणा लेकर यह युवा पीढ़ी भी आगे बढ़ रही है।

No comments:

Post a Comment