कानपुर देहात - पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के, दत्तक पुत्र खजांची नाथ के जन्मदिन में नही शामिल - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 3 December 2018

कानपुर देहात - पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के, दत्तक पुत्र खजांची नाथ के जन्मदिन में नही शामिल

रिपोर्ट - अरविन्द शर्मा 

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के दत्तक पुत्र खजांची नाथ के जन्मदिन में नही शामिल हुए अखिलेश यादव खास बात ये की अखिलेश ने खजांची नाथ के गांव से महज 3 किलोमीटर दूर जनसभा को संबोधित किया लेकिन खजांची के गांव नही आये हालांकि अखिलेश यादव ने खजांची के परिवार को 2 हाईटेक घर बनवाकर जन्मदिन का उपहार दिए इस दरमियान खजांची नाथ का परिवार और गांव के लोग अखिलेश यादव की राह ताकते रहे लेकिन अखिलेश यादव नही आये गौरतलब है कि अखिलेश ने खजांची नाथ का पहला जन्मदिन सैफई में मनाया था

अखिलेश यादव के गोद लिए हुए दत्तक पुत्र खजांची नाथ का आज दूसरा जन्मदिन था अखिलेश यादव को खजांची नाथ के गांव अनंतपुर धौकल आना था ओर खजांची नाथ का जन्मदिन मनाया कर खजांची नाथ के परिवार को हाईटेक टेक्नोलॉजी से बने 2 मकानों की चाबियां उपहार के तौर पर देनी थी सारी तैयारी हो चुकी थी ढोल तासा बज रहा था केक तैयार था गांव के हर शख्स की नज़र अखिलेश यादव की राह तक रही थी पूरा गांव खुशियों से सराबोर था कि अचानक एक खबर ने खुशियों को गम में बदल दिया पता चला कि अखिलेश यादव खजांची के गांव से महज 3 किलोमीटर दूर सरदारपुर गांव में जनसभा करके चले गए है हालांकि पुलिस ने खासा प्रयास किया कि खजांची नाथ को सरदारपुर गांव जनसभा स्थल पर ले जाए लेकिन खजांची का परिवार नही जाने की जिद्द पर अड़ गया


खजांची नाथ को लेकर ननिहाल ओर ददिहाल मे विवाद चल रहा है जबकि अखिलेश ने खजांची को एक घर ननिहाल में बनवा कर दिया है और एक घर ददिहाल में बावजूद इसके विवाद जारी है कल रात जबरन खजांची को उठा ले जाने की कोशिश की गई लेकिन सर्वेसा ओर उसके परिजनों ने देखा और खजांची को बचाया खजांची अपने ननिहाल में रह रहा है दरअसल खजांची जहाँ रहता है अखिलेश की नज़रे इनायत उसी गांव में रहती है ददिहाल सरदारपुर गांव में है यही वजह है कि खजांची को हर कोई अपने साथ रखना चाहता है 



अखिलेश यादव खजांची नाथ से नही मिले लेकिन खजांची नाथ के घर से महज 3 किलो मीटर दूर सरदारपुर में जनसभा कर डाली अखिलेश यादव ने सपा सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि हमारी सरकार लोगो को ऐसे ही घर देगी जैसे खजांची नाथ को दिया गया है जो महज़ 4 दिन में बनकर तैयार हुआ है छत दीवारे सब रेडीमेड आयी और 4 दिन में घर बनकर तैयार हो गया घर मे सोलर लाइट है पंखे है बिजली है 


गौरतलब है कि दो साल पहले कानपुर देहात के झींझक इलाके के बैंक की लाइन में लगे लगे सर्वेसा देवी नाम की महिला का प्रसव हुआ था जिसका नाम तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने खजांची नाथ रक्खा था और उस बच्चे को गोद लेने का एलान किया था खजांची नाथ को पूर्व की सपा सरकार ने केंद्र की बीजेपी सरकार पर ब्रम्हास्त्र की तरह इस्तेमाल किया था हर जनसभा में खजांची नाथ ही गूंजा था

No comments:

Post a Comment