योगी सरकार ने महज दो सालों के भीतर 2 लाख गरीब परिवारों को आवास दिया - शलभ मणि त्रिपाठी - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 4 January 2019

योगी सरकार ने महज दो सालों के भीतर 2 लाख गरीब परिवारों को आवास दिया - शलभ मणि त्रिपाठी

चीफ रिपोटर UP -चन्द्र मोहन तिवारी


भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा है कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश ऐतिहासिक बदलाव की राह पर है। पिछले दो सालों के दौरान सरकार ने हर वर्ग के लिए बेहतर और शानदार काम किए हैं। खासतौर पर गरीबों के कल्याण के लिए प्रधानमंत्री की नेतृत्व में चल रही योजनाएं अब योगी के नेतृत्व में जमीन तक पहुंचने लगी हैं। 



गांव-गांव में हर जरूरतमंद परिवार को शौचालय, गरीबों को मुफ्त आवास देने के साथ ही साथ आयुष्मान भारत का बीमा कार्ड भी लोगों तक पहुंचने लगा है और लोगों को इसका लाभ भी मिलने लगा है। विपक्ष के 15 सालों की तुलना की जाए तो योगी आदित्यनाथ जी की सरकार के महज दो साल इस पर भारी हैं और हर क्षेत्र में ऐतिहासिक काम हुए हैं।

शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि बिजली के क्षेत्र में भी प्रधानमंत्री जी की अगुवाई में प्रदेश की योगी सरकार ने मील का पत्थर स्थापित किया है। मुख्यमंत्री और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा के प्रयासों से महज दो सालों के भीतर एक लाख 20 हजार मजरों तक बिजली पहुंचाई गई है। करीब 94 लाख परिवारों को बिजली कनेक्शन दिए गए। करीब पचास लाख गरीब परिवारों को मुफ्त बिजली दी गई। करीब 25 लाख जगहों को सोलर के जरिए प्रकाशित किया गया। केंद्र की इस जन कल्याणकारी योजना को शत प्रतिशत जमीन तक पहुंचाने के लिए प्रदेश को सौभाग्यशाली प्रदेश का दर्जा दिया गया। ये अपने आप में गौरवशाली उपलब्धि है।

शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि पूर्वांचल और बुंदेलखंड के विकास और धार देने के लिए मुख्यमंत्री जी ने पूर्वांचल और बुंदेलखंड विकास बोर्ड के गठन का भी काम शुरू कर दिया है। इन दोनों बोर्डों के गठन के साथ ही पूर्वांचल और बुंदेलखंड में विकास की रफ्तार और तेज हो जाएगी। काफी वक्त से पूर्वांचल और बुंदेलखंड के लोगों की तरफ से विकास बोर्ड की मांग की जा रही थी। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी ने अपने संकल्प पत्र में भी वायदा किया था कि सरकार बनते ही दोनों क्षेत्रों के लिए बोर्ड बनाए जाएंगे। इस बोर्ड की अध्यक्षता मुख्यमंत्री जी करेंगे जबकि दो उपाध्यक्षों के साथ ही 11 गैर सरकारी सदस्य और एक एक्सपर्ट भी इसमें शामिल होंगे।

प्रदेश प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा कि पिछले पांच सालों की सरकार में अखिलेश यादव की सरकार महज 63 हजार गरीब परिवारों को मु्फ्त आवास दे पाई, जबकि योगी की सरकार ने महज दो सालों के भीतर 2 लाख गरीब परिवारों को आवास दिया है। यही नहीं घर-घर में शौचालय बनवा कर महिलाओं को सम्मान देने का भी काम किया है। उत्तर प्रदेश के लिए ये एक ऐतिहासिक क्षण हैं जब केंद्र और राज्य की सरकार मिल कर प्रदेश के हित के काम कर रही है। इसके परिणाम दिखने लगे हैं। इन्वेस्टर समिट के जरिए जहां प्रदेश को बड़ा निवेश मिला है तो वहीं रोजगार के बड़े अवसर भी पैदा होने जा रहे हैं।

No comments:

Post a Comment