उन्नाव - 2017 को रहस्यमय ढंग से लापता हुई ,मृत युवती मिली जीवित ... - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 28 January 2019

उन्नाव - 2017 को रहस्यमय ढंग से लापता हुई ,मृत युवती मिली जीवित ...

रिपोर्ट - विशाल सिंह

उन्नाव जनपद के अचलगंज थाना क्षेत्र से अप्रैल 2017 को रहस्यमय ढंग से एक युवती लापता हुई थी जिसकी कानपूर देहात के अकबरपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत एक अज्ञात शव मिलने व लापता लड़की के पिता द्वारा अज्ञात लड़की के शव को अपनी लड़की का शव बताकर दाह संस्कार कर दिया जाता है लेकिन इस कहानी में दिलचस्प मोड़ जब आता है जब लापता युवती लगभग 9 महीने बाद अपना पुराना मोबाइल नंबर जब चालू किया तो नंबर सर्विलांस में लगा होने के कारण तुरंत ही पकड़ में आय गया जिसके चलते एक बार फिर उन्नाव पुलिस सक्रीय होती है 





सर्विलांस की मदद से लापता या मृत घोषित हो चुकी युवती को गाजियाबाद से बरामद कर लेती है जहाँ ये अपने पति के साथ रह रही होती है पूछताछ के दौरान लड़की ने बताया की वो 23 अप्रैल को घर से अपने प्रेमी के साथ भाग गयी थी और 24 जून को उसने फर्रुखाबाद में प्रेमी से कोर्ट मैरिज कर गाजियाबाद में रहने लगी थी इस पुरे प्रकरण को उन्नाव पुलिस एक गुड वर्क मान रही है और जो डेड बॉडी बरामद हुई थी उसके संबंध में यह तफ्तीश वापस जनपद कानपुर देहात को ट्रांसफर करेंगे ताकि वहां पर वो अपनी तफ्तीश कर के जो लड़की गलत शिनाख्त हुई है उसकी शिनाख्त करवाये और आगे की कार्रवाई करे 



हरीश कुमार (डीआईजी/एसपी उन्नाव)

जनपद उन्नाव पुलिस के द्वारा एक बहुत अच्छा गुड वर्क किया गया है यह एक 23-7-2018 को प्रिया शुक्ला डॉटर ऑफ़ सिद्ध गोपाल शुक्ला इसका गुमशुदगी थाना अचलगंज में दर्ज किया गया था और 25 तारीख को थाना अकबरपुर जनपद कानपुर देहात में एक अज्ञात लड़की की डेड बॉडी मिली थी तो वो लड़की की शिनाख्त इसी प्रिया के नाम से कानपुर देहात पुलिस के द्वारा किया गया और जिस में जो प्रिया के पिता सिद्ध गोपाल शुक्ला ने कानपुर देहात जा करके इस लड़की का शिनाख्त भी किया जो मृतक ही वहां डेड बॉडी मिली थी और उसको अपनी लड़की मान करके शिनाख्त कर के उसका अंतिम संस्कार किया और डेड बॉडी लिया कर के यहां अपने पैतृक गांव बंदीपुर थाना अचलगंज में संस्कार किया यहां क्योंकि गुमशुदगी दर्ज थी और वहां पे डेड बॉडी लिंक हो गयी लिहाजा यहाँ से तफ्तीश लिखा पढ़ी में कर के घटनास्थल अकबरपुर मान करके वहां ट्रांसफर कर दिया गया वहां पर यह गुमशुदगी की जांच कर रहे थे


इसी दौरान में जब वह गुमशुदगी की जांच में जब वह नंबर पता चला जब वह प्रिया मोबाइल लेकर के गई थी जुलाई के महीने में यानी कि चौथे महीने में के बाद में जुलाई के महीने में वो नंबर चालू हुआ और उस नंबर से पता चला कि नंबर तो चल रहा है और प्रिया इसका मतलब अभी जिंदा है जब यहां की लोकल अचलगंज पुलिस ने पता किया तो पता करके गाजियाबाद से इस लड़की को बरामद किया और बरामद कर के पूछताछ में इस लड़की ने बताया कि इसने चंद्रपाल S/O आशा राम यादव नाम के लड़के के साथ में इसने फतेहगढ़ की कोर्ट में जाकर के कोर्ट मैरिज कर लिया है और यहां से ये गाजियाबाद में शिफ्ट हो गए हैं तो वँहा से लड़की की बरामदगी की अब हम यहां पे लड़की का 164 का बयान कराएंगे मेडिकल कराएंगे और 164 के आधार पर जो आगे की तफ्तीश होगी वह आगे की तफ्तीश में अमल में लाई जाएगी और जो वहां पर लड़की बरामद हुई थी डेड बॉडी बरामद हुई तो उसके संबंध में यह तफ्तीश वहां पर जनपद कानपुर देहात को ट्रांसफर करेंगे ताकि वहां पर वो अपनी तफ्तीश कर के जो लड़की गलत शिनाख्त हुई है उसकी शिनाख्त करवाया और आगे की कार्रवाई की जाए

No comments:

Post a Comment