सबरीमाला: बीजेपी का आरोप कांग्रेस ने भड़काई हिंसा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 5 January 2019

सबरीमाला: बीजेपी का आरोप कांग्रेस ने भड़काई हिंसा

केरल में भड़की हिंसा में जहाँ  3,178 लोगों को गिरफ्तार गया है वहीं बीजेपी ने इस हिंसा के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताया है. ज्ञात हो कि  सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र वर्ग के महिलाओं की एंट्री की परमिशन दे दी है. वहीं राज्य में कांग्रेस समर्थित एलडीएफ सरकार है जो हिंसा को रोक पाने में पूरी तरह से फेल हो गयी है. इतना ही नहीं इस हिंसा में बीजेपी सांसद के घर बम भी फेंका गया है.
बीजेपी ने शनिवार को आरोप लगाया कि केरल में सबरीमाला मंदिर के आस-पास हिंसा राज्य की एलडीएफ सरकार ने भड़काई। बीजेपी ने कहा कि मामले से संवेदनशील तरीके से निपटने की जगह राज्य सरकार ने स्थिति और बिगाड़ दी, नतीजतन कई श्रद्धालु घायल हो गए और कई लोगों की मौत हुई। भगवा पार्टी ने यह भी कहा कि सबरीमाला मुद्दा हिंदुओं के बारे में है, ना कि सत्तारूढ़ पार्टी के बारे में। बीजेपी ने कहा, 'यह सबकुछ सीपीएम के गुंडों ने राज्य सरकार की पूरी शह और समर्थन से किया है। आरएसएस-बीजेपी कार्यकर्ताओं के खिलाफ हिंसा भड़काने का सीपीएम का इतिहास रहा है। लेकिन आज वे श्रद्धालुओं तक को नहीं बख्श रहे हैं।'  भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव ने कहा, 'राज्य सरकार डीवाईएफआई, एसडीपीआई के कार्यकर्ताओं का इस्तेमाल कर रही है। यह सब राज्य प्रायोजित हिंसा है। दो दिन पहले एक श्रद्धालु मारा गया और हमारे एक सांसद के पुश्तैनी घर पर बम फेंका गया।' उन्होंने कहा कि सबरीमाला मंदिर में प्रदर्शन की प्रकृति राजनीतिक नहीं थी, बल्कि मंदिर की परंपरा बरकरार रखने के लिए शांतिपूर्ण प्रदर्शन हो रहे थे। राव ने कहा, 'यह श्रद्धालुओं का मुद्दा है, ना कि भाजपा का मुद्दा है। यह हिंदू समाज से जुड़ा मुद्दा है।' आपको बता दें कि पिछले साल सुप्रीम कोर्ट ने सबरीमाला मंदिर में सभी उम्र वर्ग के महिलाओं की एंट्री की इजाजत दे दी थी। हालांकि, इस फैसले के बाद अभी तक 'प्रतिबंधित' उम्र की एक भी महिला मंदिर में अयप्पा के दर्शन नहीं कर पाई थीं। बुधवार को कनकदुर्गा और बिंदू ने दावा किया कि वे अयप्पा के दर्शन करने में सफल रही थीं। इस खबर के बाद राज्य में जबरदस्त विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए थे। इससे पहले शुक्रवार को सीपीएम विधायक एएन शमशीर और पार्टी के पूर्व जिला सचिव पी ससि पर शुक्रवार रात देसी बम से हमला कर दिया गया। इसके कुछ देर बाद बीजेपी नेता और राज्य सभा सांसद वी मुरलीधरन के घर पर भी आधी रात को बम फेंकने की खबर आई। घटना के बाद से थलसरी में तनाव है। पुलिस ने बताया है कि शमसीर के मडप्पेडिका स्थित घर पर रात करीब 10:15 बजे बम फेंके गए। हमलावर मोटरसाइकल पर आए और बम फेंककर भाग गए थे।

No comments:

Post a Comment