लखनऊ - तीन तलाक पर अध्यादेश लाकर पीएम ने दिखाई प्रतिबद्धता, कांग्रेस का चेहरा हुआ फिर उजागर... - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 21 February 2019

लखनऊ - तीन तलाक पर अध्यादेश लाकर पीएम ने दिखाई प्रतिबद्धता, कांग्रेस का चेहरा हुआ फिर उजागर...



 
रिपोर्ट - महेन्द्र मिश्रा ब्यूरो 

 भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता जुगल किशोर ने कहा है कि ट्रिपल तलाक पर अध्यादेश लाकर केंद्र की नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने मुस्लिम बहनों के साथ होते रहे अत्याचार के खिलाफ अपनी प्रतिबद्धता साबित कर दी है। प्रधानमंत्री जी ने मुस्लिम बहनों से वायदा किया था कि सरकार में आने के बाद हर हाल में इस कुप्रथा का अंत किया जाएगा और अपना वायदा निभाते हुए उन्होंने सदियों से मुस्लिम बहनों के साथ होते आ रहे अत्याचार के खिलाफ एक मजबूत कानून लाकर बहनों को इंसाफ दिलाने का काम किया।प्रदेश प्रवक्ता जुगल किशोर ने कहा कि शाहबानों प्रकरण में अपना असल चेहरा दिखा चुकी कांग्रेस और समाजवादी पार्टी जैसे अब भी वोट बैंक की राजनीति के चलते तीन तलाक जैसे  कानून के विरोध में खड़े हैं। यही वजह है कि प्रधानमंत्री जी को मजबूत कदम उठाते हुए अध्यादेश लाना पड़ा है। ये इस बात का प्रमाण है कि प्रधानमंत्री जी ने जो कहा था, वही उन्होंने कर भी दिखाया है।  जुगल किशोर ने कहा कि सदियों से चले आ रहे इस कुप्रथा का खामियाजा लाखों माताओं बहनों को भुगतना पड़ा है और अब वक्त आ गया है कि ये कुप्रथा खत्म ही होना चाहिए। इस कुप्रथा के खिलाफ लगातार अध्यादेश लाने की इस दृढ इच्छाशक्ति के लिए प्रधानमंत्री जी साधुवाद के पात्र हैं। जुगल किशोर ने कहा कि एक वक्त था जब देश सती प्रथा और बाल विवाह प्रथा जैसी कुरीतियों से जूझ रहा था। वक्त के साथ इन कुरीतियों को खत्म किया गया। अब जबकि ज्यादातर मुस्लिम देश भी तीन तलाक कानून बनाकर खत्म कर चुके हैं तब अब भी दकियानूसी प्रवृत्ति के पक्ष में खड़े दिखते हैं। अफसोस इस बात का है कि वोट की राजनीति के चलते कांग्रेस और सपा जैसे दल भी तीन तलाक के भयावह कुप्रथा के पक्ष में खड़े नजर आते हैं।प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि महिलाएं देश और दुनिया में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं। और ऐसे में प्रधानमंत्री जी ने भी तय किया है कि नए भारत में किसी भी माता बहन के साथ अत्याचार नहीं होने दिया जाएगा। संख्या बल और विरोध का डट कर सामना करते हुए प्रधानमंत्री जी ने अध्यादेश लाकर ये साबित कर दिया है कि महिला सशक्तिकरण उनकी प्राथमिकता है और लाख चुनौतियों के बाद भी वे इसे स्थापित करके रहेंगे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।