पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को आत्मिक नमन किया .... - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 16 February 2019

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को आत्मिक नमन किया ....





महेन्द्र मिश्रा ब्यूरो


जम्मू कश्मीर के पुलवामा क्षेत्र में हुए आतंकी हमले में सी.आर.पी.एफ.में तैनात उत्तर प्रदेश के भी 12 जवान शहीद हुए हैं। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को आत्मिक नमन करते हुए कहा है कि पूरे देश में इस घटना से आक्रोश है। देश के लिए बलिदान करने वालों के प्रति हम सब कृृतज्ञ हैं।  अखिलेश यादव ने पार्टी नेताओ से कहा है कि शहीदों के गांवो में जाकर उन्हे श्रद्धं|जलि देने के साथ शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना भी व्यक्त करें। उन्होंने कहा कि हम शहीदों के परिवार के साथ खड़े है। अखिलेश यादव  जनपद कन्नौज की तिर्वा तहसील के अजान गांव के  सी0आर0पी0एफ0 के जवान श्री प्रदीप सिंह की शहादत की खबर सुनते ही लखनऊ से कन्नौज के लिए रवाना हो गए। उन्होने शहीद के शोक संतप्त परिवार से मिलकर सांत्वना दी और शहीद के शव पर पुष्प चक्र चढ़ाकर श्रंद्धाजलि दी। समाजवादी सैनिक प्रकोष्ठ की आपात बैठक में जिसकी अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष कर्नल सत्यवीर सिंह यादव ने की, पुलवामा कांड के शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। बैठक में पाकिस्तान के खिलाफ कड़ी कार्यवाही किए जाने की मांग की गई।उत्तर प्रदेश के जो अन्य जवान शहीद हुए हैं उनके नाम हैं सर्व श्री अवधेश कुमार यादव (चन्दौली) पंकज कुमार त्रिपाठी(महाराजगंज) अमित कुमार (शामली) प्रदीप कुमार (शामली) विजय कुमार मौर्य (देवरिया) रामवकील (मैनपुरी) महेश कुमार (इलाहाबाद) रमेश कुमार (वाराणसी) कौशल कुमार रावत (आगरा) श्यामबाबू (कानपुर देहात) अजित कुमार आजाद (उन्नाव)।



No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।