उन्नाव - समाज कल्याण अधिकारी से मारपीट... - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 6 March 2019

उन्नाव - समाज कल्याण अधिकारी से मारपीट...

रिपोर्ट - विशाल सिंह 

 उत्तर प्रदेश के उन्नाव में उस समय हड़कंप मच गया जब विकास भवन में चल रही 25 जिला पंचायत सदस्यों  की बैठक में पुरवा विधायक और बीजेपी सांसद के लोगो ने समाज कल्याण अधिकारी से मारपीट कर दी जिसके बाद पूरे उन्नाव जिले में हड़कंप मच गया और जिला योजना समिति के 25 जिला पंचायत सदस्यों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया । इस बड़ी घटना के वक्त उन्नाव के जिलाधिकारी,सीडीओ और सभी अधिकारी मौजूद थे लेकिन उनके बाद भी सभी अधिकारी तमाशबीन बनकर नजारा देखते रहे है मामला यही नही रुका जिला पंचायत सदस्यों की विकास भवन में चल रही बैठक में कवरेज करने गए मीडिया कर्मियों से भी अभद्रता की गई इस अभद्रता को जिलाधिकारी के सिपाही ने की  जिसके बाद पत्रकारों में काफी आक्रोश देखने को मिला और जिलाधिकारी से इस बात से नाराजगी जताई और धरने पर बैठने की बात कही और उस  सिपाही पर कार्यवाही करने की बात कही वही उन्नाव डीएम देवेंद्र कुमार पांडेय लगातार पत्रकारों को आश्वासन देने में लगे रहे और कार्यवाही करने की भी बात कही कार्यक्रम में बहस के दौरान पुरवा बसपा विधायक अनिल सिंह अधिकारी सस्पेंड करने की बात करते रहे और अगर सस्पेंड नहीं किया तो धरने की बात करने को कह रहे है । बढ़ते हुए इस आक्रोश को लेकर जब सांसद साक्षी महाराज से बात की गई तो उन्होंने बताया कि नोक झोंक हुई न गाली गलौज हुई न किसी के साथ मारपीट हुई,बहस जब होती है तो ऐसा प्रायः विभिन्न दलों के नेताओ में भी हो जाता है  अधिकारियों में हो जाता है तो मारपीट और गाली गलौज की बात बेबुनियाद है नोक झोंक जरूर हुई थी उसके बाद शांत हो गया। हमने जिलाधिकारी से कहा है इसको जांच में लीजिये अगर मीडिया के लोग के साथ बत्तमीजी हुई है तो उनके खिलाफ कार्यवाही कीजिये । वही अनिल सिंह पुरवा विधायक से बात की गई तो उन्होंने कहा कि धक्कामुक्की कर रहे थे लोग की सबको बाहर निकालो बाहर भगाओ बाहर भगाओ अधिकारियों को नही हमारी उससे ये हुई की पेंशन के बारे में पूछताछ हुई हमने उससे पूछा उसने गरम मिजाज से बोला और हमने भी तुम यार बेकार की बाते कर रहे हो सरकार की योजना के बारे में पूछ रहा हूँ |जिलाधिकारी ने बताया की देखो पूरी गंभीरता के साथ आपकी बात को पूरा मै महसूस कर रहा हूँ कोई भी ऐसी बात हुई तो हम पूरी तरह से स्वीकार करते है इसमें जो भी कार्यवाही होगी हम सारी कार्यवाही करेंगे और ऐसी कार्यवाही करेंगे की आप संतुष्ट होंगे | 


 
सदन चल रहा था नोक झोंक हुई न गाली गलौज हुई न किसी के साथ मारपीट हुई,बहस जब होती है तो ऐसा प्रायः विभिन्न दलों के नेताओ में भी हो जाता है  अधिकारियों में हो जाता है तो मारपीट और गाली गलौज की बात बेबुनियाद है नोक झोंक जरूर हुई थी उसके बाद शांत हो गया। प्रारम्भ में मीडिया के लोगो को खुली छूट दी गई थी फ़ोटो के लिए बाद में जब विशेष प्रस्ताव पास होने थे तो  मीडिया के लोगो से कहा हम बाद में मिलेंगे और आपकी फ़ोटो ग्राफी हो गई हो तो बाद मिलेंगे,अब वो कहा हुई इसकी बात को हमने जिलाधिकारी से कहा है इसको जांच में लीजिये अगर मीडिया के लोग के साथ बत्तमीजी हुई है तो उनके खिलाफ कार्यवाही कीजिये । मारपीट हुई नही है तो वीडियो कहा से बना लिया आपने वैसा बहस का नही पूछा जा सकता तीखा आप बताइए नही मारपीट नही हुई है धक्कामुक्की कर रहे थे लोग की सबको बाहर निकालो बाहर भगाओ बाहर भगाओ अधिकारियों को नही |आप बुद्धिमान लोग है समाज कल्याण अधिकारी से हमारी उससे ये हुई की पेंशन के बारे में पूछताछ हुई हमने उससे पूछा उसने गरम मिजाज से बोला और हमने भी तुम यार बेकार की बाते कर रहे हो सरकार की योजना के बारे में पूछ रहा हूँ मै कुछ ऐसा तो पूछ नहीं रहा हूँ तुमसे तो उसने जवाब दिया जवाब दिया तो डीएम साहब ने देखा की गरम हो रहा था तो उससे कहा की तुम बाहर जाओ फिर बाहर जाने में वहा पर जो पैसेज में लोग खड़े हुए थे उन्होंने धक्कामुक्की करके की बाहर निकलो बाहर निकलो सब लोग क्योकि जब मीडिया के लोग जब चले गए तो तुम लोग यहाँ क्या कर रहे हो बाहरी लोग जो खड़े हुए थे नहीं अधिकारी के अधिकारी लोग कर रहे थे | देखो पूरी गंभीरता के साथ आपकी बात को पूरा मै महसूस कर रहा हूँ आपके साथ हूँ अगर कही पर कोई जरा सा भी अफरा तफरी का माहौल बना उसमे अगर आपके साथ ऐसा महसूस हुआ की कोई भी ऐसी बात हुई तो हम पूरी तरह से स्वीकार करते है इसमें जो भी कार्यवाही होगी हम सारी कार्यवाही करेंगे और ऐसी कार्यवाही करेंगे की आप संतुष्ट होंगे |हम करेंगे बात सुनिए देखिये अभी हमने मीटिंग ख़त्म किया है इस मीटिंग की प्रक्रिया ख़त्म करने के लिए दस पन्द्रह मिनट लगेंगे सारे विधायक लोग भी है अभी इसके बाद आप लोग बैठिये हम आपके साथ बैठ रहे है यहां बैठो मत |कलेक्ट्रेट चलोगे हमारे साथ में चलो  |

No comments:

Post a Comment