वाराणसी-एन डी आर एफ द्वारा मेगा मॉक एक्सरसाइज पर बिभिन्न एजेंसियों के साथ किया गया समन्वय अहम बैठक - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 17 April 2019

वाराणसी-एन डी आर एफ द्वारा मेगा मॉक एक्सरसाइज पर बिभिन्न एजेंसियों के साथ किया गया समन्वय अहम बैठक


ब्यूरो वाराणसी-कैलाश सिंह विकाश   

 वाराणसी के डीजल लोकोमोटिव वर्क्स , सभागार में विभिन्न प्रकार के आपदा परिदृश्यों पर MEGA MOCK EXERCISE के संबंध में समन्वय बैठक एवं टेबल टॉप अभ्यास का आयोजन किया गया ,जिसमे NDRF, अग्निशमन, नागरिक सुरक्षा, नेहरु युवा केंद्र ,एन .सी .सी ,एन .एस .एस , सी .आर. पी .एफ, स्काउट एंड गाइड ,पुलिस ,ट्रैफिक पुलिस ,नगर निगम ,एस .डी .आर .एफ ,उ० प्र० होम गार्ड ,ट्रामा सेंटर बी० एच० यू० ,जिला स्वस्थ्य विभाग ,सूचना विभाग ,डी० .एल० .डब्ल्यू० ,के० वी० ,सैंट जोहन्स स्कूल ब्रिगेड ,जिला शिक्षा अधिकारी , जिला प्रशाशन व अन्य एजेंसिओं के प्रतिनिधियों ने भाग लिया | 

इस बैठक में मुख्यता भूकंप के कारण आयी आपदाओं के दृष्टिगत सयुक्त रूप से आगामी रणनीति का निर्माण किया गया I वाराणसी में, किसी भी प्रकार की आपदा जैसे भूकंप, रासायनिक, जैविक व रेडियोधर्मी आकस्मिकता होने पर बचाव और राहत कार्य के लिए ज़िम्मेदार एजेंसिंयों के मध्य समन्वय स्थापित करने व त्वरित प्रतिक्रिया प्रणाली को क्रियान्वित करने हेतु डीजल लोकोमोटिव वर्क्स के ऑडिटोरियम में छद्म अभ्यास का आयोजन किया जायेगा  I यह आयोजन दिनांक 18 अप्रैल 2019 को प्रस्तावित है

एन.डी.आर.एफ की तरफ से  डिप्टी कमांडेंट श्री असीम उपाध्याय ,असिस्टेंट कमांडेंट श्री दिनेश कुमार ,निरीक्षक मिथिला बिहारी सिंह तथा 06 अन्य इस बैठक में मौजूद रहे , उन्होंने कहा की प्राक्रतिक आपदा की घटना को रोका नहीं जा सकता है, लेकिन प्रभाव और हानि को सक्रिय दृष्टिकोण और प्रयासों से कम किया जा सकता है । मुख्य रूप से किसी क्षेत्र में समुदाय या जनसामान्य ही किसी भी आपदा में प्रथम उपचारक की भूमिका निभाता है अतः समुदाय का आपदा प्रबंधन में प्रशिक्षित व जागरूक होना नितांत अवश्यक है। 

आज की Table Top Exercise में, NDRF समन्वयक व मुख्य एजेंसी के तौर पर रही I इस कार्यशाला Table Top Exercise के दौरान   सभी संस्थाओं के मध्य कार्य का विभाजन, आपसी समन्वय की स्थापना व आने वाले संभावित  खतरों को ध्यान में रखते हुए अपनी अपनी कार्ययोजनाओं को बनाना शामिल रहा I 
                 
ज्ञात हो कि रासायनिक, जैविक व रेडियोधर्मी आपदा अदृश्य होते है I जिसके विषय में जानकारी ही बचाव का मूल मंत्र है I दिनांक 18  अप्रैल 2019  के दिन डीजल लोकोमोटिव वर्क्स के ऑडिटोरियम  में भूकंप व रासायनिक आपदा का छद्म अभ्यास किया जाएगा I जिसमे विभिन्न प्रकार के बचाव एवं राहत कार्य का प्रदर्शन किया जायेगा, जिससे आपदा से संबंधित विभिन्न एजेंसियो का आपसी समन्वय के साथ यह एक अत्यंत ही प्रभावकारी क़दम होगा जिससे जनता के बीच जागरूकता फैलेगी और वे स्वयं सहायता कर के अपने को बचा सकेंगे, साथ ही प्रशासनिक विभागों के मध्य आपसी समन्वय भी प्रगाढ़ होंगे

No comments:

Post a Comment