मोदी जी ने जाति पूछने वालों से साफ कहा हमारी जाति है गरीबी - केशव प्रसाद मौर्य - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 13 May 2019

मोदी जी ने जाति पूछने वालों से साफ कहा हमारी जाति है गरीबी - केशव प्रसाद मौर्य

न्यूज़ डेस्क तहकीकात लखनऊ

 मोदी के नाम की जो आंधी चलना शुरु हुई थी, वह छठा चरण पूरा होते-होते सुनामी में बदल गई है। गरीबों के हित में काम करने वाले मोदी जी की लहर इस तरह हावी है कि इस बार बिहार में महागठबंधन का खाता भी नहीं खोलने वाला है। यूपी में भी ऐसे हालात दिख रहे हैं। यहां पर नकली बुआ को पीएम बनाने का सपना दिखाने वाले बबुआ अखिलेश का गठबंधन पूरी तरह से फेल होता दिख रहा है। पिता जी की जगह नकली बुआ को पीएम बनाने का सपना देख रहे अखिलेश यादव आजमगढ़ लोकसभा सीट से हार रहे हैं। सिर्फ अखिलेश ही नहीं जनता राहुल और ममता बनर्जी को भी पीएम नहीं बनाने जा रही है। यह बात  यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सोमवार को घोसी लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी के लिए मऊ में आयोजित विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए कहीं।  उन्होंने कहा कि आप लोगों की जितनी अधिक से अधिक सहभागिता होगी, भाजपा उतनी ही मजबूत होगी। उन्होंने कहा कि मोदी जी की जाति पूछने वाले लोगों को मोदी जी ने सबक सिखाया है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने साफ कह दिया है कि हमारी जाति कोई नहीं बल्कि गरीबी हमारी जाति है। मोदी जी ने गरीबों के हित में इतना काम किया है कि अब 55 साल तक राज करने वाले भी फिर से गरीबी मिटाने की बात कर रहे हैं। मोदी जी ने गरीबों के हित में काम किया है और उन्होंने उज्जवला योजना, आवास योजना और आयुष्मान योजना शुरू की है। जिससे आज देश के करोड़ों परिवारों को लाभ हो रहा है। यूपी में योगी सरकार का अभी 2 साल हुआ है और 2 साल में इतनी सड़कों का निर्माण और मरम्मत हुई है जितनी 15 सालों में कभी हुई ही नहीं। ना इतनी सड़के दुरूस्त हुई क्योंकि केंद्र में कांग्रेस लूट रही थी और उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा लूट रहे थे।उन्होंने कहा कि यह चुनाव देश को 100 साल आगे ले जाने वाला चुनाव है। 
 

 उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले 5 सालों में देश को 60 साल आगे ले जाने का काम किया है जिसकी वजह से आज मोदी जी की पूरे देश में लहर चल रही है। गठबंधन पर वार करते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह का तुष्टीकरण करके राजनीति की जा रही है उसको सबक सिखाने का काम इस बार यूपी की जनता करेंगी। यूपी में जातीय आधार पर किया गठबंधन पूरी तरह से मोदी समीकरण के आगे फेल हो गए है। उन्होंने कहा कि यूपी की बड़ी पार्टियों को मोदी जी के डर की वजह से गठबंधन करना पड़ा है। उन्होंने कहा कि अगर मोदी जी ने काम न किया होता, तो शायद इन्हें गठबंधन नहीं करना पड़ता, लेकिन यह लोग जान रहे हैं कि हम चुनाव हार रहे हैं। श्री मौर्य ने कहा कि जिस उम्मीद के साथ इन लोगों ने गठबंधन किया था, उसको सबक सिखाने का यूपी की जनता ने किया है। इसका अंदाजा इन गठबंधन और कांग्रेस के नेताओं के बयानों से लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि यूपी में हो रही बुरी तरह हार से इन लोगों में अब बौखलाहट है जिसकी वजह से यह लोग जनता के बीच में गलत बयानबाजी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 2017 के विधानसभा चुनाव में भी दो लड़कों ने गठबंधन किया था, लेकिन उस समय यूपी की जनता ने इतना बहुमत दिया कि सारे विपक्षी हैरान रह गए। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान की सेना ने एयरस्ट्राइक करके साबित कर दिया है कि अगर हमें कोई आंख दिखाएगा तो हम उसको जवाब देने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि यह सब मोदी जी की वजह से ही संभव हुआ है। अगर मोदी सरकार इतना साहस न उठाती तो फिर यह किसी भी तरह से संभव नहीं हो पाता है। मोदी सरकार के इतने बड़े कदम से ही आज सेना का शौर्य बड़ा है। उन्होंने कहा कि आज सेना के शौर्य का सबूत मांगने वाले पाकिस्तान का वीजा लें और वहां पर जाकर गिन ले कि आखिर वहां पर कितनी कब्र खुदी है। अपने को पिछड़ा नेता बताने की मची होड़ पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि गठबंधन के नेता जिस तरह से अपने को असली पिछड़ा नेता बता रहे हैं। वह भी सिर्फ दिखावा है और यह लोग नकली पिछड़े नेता है। देश का असली पिछड़ा नेता कौन हैं इसे जनता जान रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साफ कह दिया है कि उनकी जाति गरीबी है और वह गरीबों के हितो में लगातार काम करते रहेंगे। श्री मौर्य ने कहा कि हमारी सरकार में ही किसानों का गेहूं सीधे खरीद केंद्र पर बिक रहा है। उन्होंने ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार और यूपी सरकार की तरफ से अच्छी योजनाएं लांच की गई है। अब किसानों को समय से खाद मिल रही है। उन्हें यूरिया के लिए इस बार लाठी नहीं खानी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि जब प्रदेश की सत्ता में आए थे, उस समय ऋणमाफी में 86 लाख किसानों को ही लाभ मिला था। जबकि प्रदेश में ढाई करोड़ किसान और पूरे देश में 13 करोड़ किसान है। सभी किसानों का ख्याल रखते हुए मोदी सरकार ने किसान सम्मान योजना शुरू की है। जिसके तहत किसानों को साल में 6 हजार रुपये दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार ने 60 साल तक राज किया है आखिर वह क्यों अभी तक किसानों को सम्मान नहीं दे सकी।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।