फर्रुखाबाद - तहसील दिवस बना मजाक - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 18 June 2019

फर्रुखाबाद - तहसील दिवस बना मजाक

 रिपोर्ट -  पुनीत मिश्रा

सरकार की लाख कोशिशो के बावजूद भी सम्पुर्ण समाधान दिवस को सफलता नहीं मिल पा रही है उच्च अधिकारियो की लाख फटकार के बावजूद भी सरकारी कर्मचारी काम करने को कतई तैयार नहीं है तहसील दिवस की भीड़ देखकर तो यही लगता है की पीडितो को केवल तहसील दिवस का इन्तजार रहता है और तहसील दिवस की ही आस रहती है जहा उनको न्याय मिलने की उम्मीद रहती है जिसकी वजह से आज फर्रुखाबाद के तहसील दिवस में अजब गजब नज़ारा देखने को मिला लोगो की लम्बी लम्बी कतारे तो यही बया कर रही है की पीडितो को आखिर कब न्याय मिलेगा या पीड़ित तहसील दिवस में यू ही भीड़ बढाकर अधिकारियो का बोझ कम नहीं होने देगे पीडितो को न्याय मिलने की आस में आज फर्रुखाबाद के सदर तहसील दिवस में सुबह 9 बजे भीड़ पहुचना शुरू हो गई थी 


 जहा 2 बजते बजते भीड़ कम होने का नाम नहीं ले रही थी कई  पीड़ित विकलांग आज तहसील दिवस में पहुचे जहा उनका बीते कई दिनों से सी ऍम ओ कार्यालय में प्रमाणपत्र बनबाने को लेकर विवाद चल रहा था जिसके बाद आज कई विकलांग न्याय की आस में समाधान दिवस में न्याय मांगने पहुचेसरकार की फटकार लगाने के बाद भी फर्रुखाबाद जिला प्रशाशन के अधिकारी कर्मचारी सुधरने का नाम नहीं ले रहे है वायरल वीडियो से साफ़ पता चल रहा है की अधिकारी कर्मचारी काम करने के कटाई मूड में नहीं है  समाधान दिवस के समय अधिकारी अपने अपने मोबाइल में फेसबुक, व्हाट्सअप में मस्त रहे और समाधान दिवस में आये फरियादी भीषण गर्मी में अधिकारियो के सामने तपते रहे वीडियो से देखर साफ़ पता चल रहे की अधिकारियो का काम करने का तरीका सरकार के मंशा के अनरूप कतई नहीं है आखिरकार आधिकारी भी समय पूरा करके तहसील दिवस को मजाक बनाने से कतई पीछे नहीं रह रहे है

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।