वाराणसी - वृक्षारोपण और जल शक्ति अभियान में लापरवाही पर जिलाधिकारी ने सिंचाई विभाग के समस्त प्रखण्डों के अधिशासी अभियंताओं का अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का दिया निर्देश - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 31 July 2019

वाराणसी - वृक्षारोपण और जल शक्ति अभियान में लापरवाही पर जिलाधिकारी ने सिंचाई विभाग के समस्त प्रखण्डों के अधिशासी अभियंताओं का अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने का दिया निर्देश

ब्यूरो वाराणसी कैलाश सिंह विकास 

जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने मंगलवार को विकास भवन के सभागार में वृक्षारोपण और जल शक्ति अभियान की समीक्षा के दौरान प्रधानमंत्री की सर्वोच्च प्राथमिकता के अभियान में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों पर जमकर बरसे और उनके उच्चाधिकारियों से फोन पर बात की। लक्ष्य के अनुसार 18 लाख 72 हजार में दो लाख 41 हजार पौधे का ही उठान किया गया है।जिलाधिकारी सुरेन्द्र सिंह ने विभागवार समीक्षा के दौरान सिंचाई विभाग की अत्यंत खराब प्रगति पर समस्त प्रखण्डों के अधिशासी अभियंताओं का अग्रिम आदेश तक वेतन रोकने के निर्देश दिए।




 जिसमें अधिशासी अभियंता बन्धी प्रखण्ड के वो. के. कुशवाहा,मूसाखांड़ बांध प्रखण्ड के मनोज कुमार सिंह, लघुडाल नहर प्रखण्ड के राजेंद्र कुमार, नलकूप खण्ड प्रथम वाराणसी के प्रकाश चन्द्र, नलकूप खण्ड चंदौली के सलिल कुमार तथा सिंचाई खण्ड जौनपुर के आशीष कुशवाहा पर कार्रवाई की गयी। अधिकारियों को आज ही वृक्षारोपण और जल शक्ति अभियान के कार्यों की रिपोर्टिंग ऐप के द्वारा अपलोड कराने के निर्देश दिए और कहा कि वे स्वयं मानिटरिंग करें। वृक्षारोपण के लिए गड्ढे खोदने में नगर विकास, विद्युत, उद्योग,जल निगम, गंगा प्रदूषण आदि विभागों की लापरवाही पर कड़ी फटकार लगाई और चेतावनी दी कि 100 प्रतिशत गड्ढे खोद लिये जायें। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिया कि  वृक्षारोपण के पौधे नर्सरी से उठाना शुरू कर दें और रोपण करने तक सुरक्षित विधि से रखें। 05 अगस्त तक शत-प्रतिशत पौधों का उठान कर लेने के निर्देश। जिला पंचायत राज अधिकारी को सभी ग्राम पंचायतों में तालाबों की सफाई कराने का आदेश जारी करने के लिए निर्देशित किया। 
 









No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।