उन्नाव - गंगा कटान रोकने में प्रशासन के दावे फेल - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 24 July 2019

उन्नाव - गंगा कटान रोकने में प्रशासन के दावे फेल





रिपोर्ट - उमेश शुक्ला

उत्तर प्रदेश में लगातार हो रही भारी बारिश अब लोगो के लिए आफत की बारिश बन गई बारिश को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी जिले के अधिकारियों को अलर्ट जारी किया था,लिहाज उन्नाव में लगातार बारिश से गंगा नदी उफान पर है और उन्नाव से 12 किलोमीटर दूर शुक्लागंज के रविदास नगर में लागातार गंगा कटान से लोगो मे दहशत का माहौल है वही गंगा कटान से कई ग्रामीण पलायन करने को मजबूर है कई घर गंगा नदी में जमीदोज हो गए है ,ग्रामीणों ने प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है ग्रामीणो का कहना है 6 सालों से लागातार  कटान हो रही और प्रशासन बोरियो के सहारे गंगा कटान को रोकने की कवायद कर रहा है वही ग्रामीणों का आरोप हैं कई सालों से गंगा किनारे बांध बनाने की मांग कर रहा है और कटान की जगह पत्थर बिछाने की मांग कर रहा है  इसको लेकर कई बार प्रशासन से शिकायत भी कर चुके है लेकिन प्रशासन बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है गंगा किनारे प्रशासन ने जिन बोरियो के सहारे गंगा की कटान रोकने का दावा कर रहा था वह गंगा की तेज बहाव में बालू भरी बोरिया भी बह गई है  जिसके बाद ग्रामीणों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर हंगामा किया ,वही आनन फानन में प्रशासन ने बैरिकेटिंग लगा बालू भरी बोरियो को दोबारा बिछा दिया है उन्नाव ज़िला प्रशासन ने सिचाई विभाग को निर्देश दिए है जिओ बैग के सहारे गंगा में हो रही कटान रोकी जा सके लेकिन सिचाई विभाग के पास गंगा में हो रही कटान से बचने के लिए कोई ब्यवस्था नही हैआप को बता दे उत्तर प्रदेश केमुख्यमंत्री बाढ़ को देखते हुए जिला प्रशासन को सख्त निर्देश दिये उसके बावजूद उन्नाव प्रशासन बड़े हादसे का इंतजार कर रहा है..

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।