वाराणसी - मुंशी प्रेमचंद की जयंती के अवसर पर उनके पैत्रिक गाँव लमही में पौधारोपण कर धरती को हरा भरा बनाने का संकल्प लिया गया - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 1 August 2019

वाराणसी - मुंशी प्रेमचंद की जयंती के अवसर पर उनके पैत्रिक गाँव लमही में पौधारोपण कर धरती को हरा भरा बनाने का संकल्प लिया गया

ब्यूरो वाराणसी कैलाश सिंह विकास

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा द्वारा मुंशी प्रेमचंद जी की जयंती के अवसर पर पांडेपुर चौराहा पर स्थित मुंशी प्रेमचंद जी की मूर्ति एवं चौराहे की साफ सफाई कर श्रमदान किया गया और मुंशी प्रेमचंद जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया इसमें मुख्य रूप से निर्मल शंकर श्रीवास्तव आरुणि चंद सिन्हा आशुतोष सिंहा शैलेंद्र श्रीवास्तव राकेश श्रीवास्तव प्रदीप श्रीवास्तव माधुरी श्रीवास्तव अतुल श्रीवास्तव नवीन श्रीवास्तव आदि मुख्य रूप से शामिल थे प्रसिद्ध उपन्यासकार एवं साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद की जयंती के अवसर पर उनके पैत्रिक गाँव लमही में आयोजित विविध कार्यक्रमों के बीच पौधारोपण कर धरती को हरा भरा एवं पर्यावरण को शुद्ध और सन्तुलित बनाने का संकल्प लिया गया |  


उक्त अवसर पर प्रजापिता   ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय, क्षेत्रीय मुख्यालय - सारनाथ की क्षेत्रीय निदेशिका राजयोगिनी बी के सुरेन्द्र दीदी, क्षेत्रीय प्रबंधक बी के दीपेन्द्र, क्षेत्रीय मीडिया संयोजक बी के बिपिन,  राजयोग प्रशिक्षिका बी के तापोशी, बी के प्रीती, हरहुआ ब्लाक प्रमुख डा अशोक वर्मा, ग्राम प्रधान बहन मीरा देवी के साथ संस्था के सक्रिय सदस्य ग्राम लमही के अशोक जी और मुन्ना लाल पटेल आदि ने पौधारोपण किया लमही स्थित तालाब के साथ ही आसपास के स्थानों में भी सुरेन्द्र दीदी, दीपेन्द्र भाई के साथ प्रिंट मीडिया के  प्रमोद यादव, आलोक त्रिपाठी आदि ने भी पौधारोपण कर लोगों में पर्यावरण के प्रति जागृति लाने हेतु प्रेरित किया

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।