बाराबंकी-फौजी और दारोगा में मारपीट, वकीलों ने किया हंगामा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Sunday, 4 August 2019

बाराबंकी-फौजी और दारोगा में मारपीट, वकीलों ने किया हंगामा


ब्यूरो चीफ- योगेश तिवारी


पंजाब में तैनात एक फौजी और दारोगा के बीच मारपीट हो गई। इसमें दारोगा की वर्दी फट गई पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर आरोपित फौजी को गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद शनिवार सुबह से फौजी के रिश्तेदार वकील व परिवारजन ने विरोध शुरू कर दिया। परिवारजन का आरोप था कि पुलिस ने फौजी को बेरहमी से पीटा है। आक्रोश और विरोध को देखते हुए आखिरकार पुलिस ने फौजी को कोतवाली से ही जमानत पर छोड़ दिया।

 कोतवाली नगर के ग्राम रामचरनपुरवा मजरे भिटोहरा निवासी संदीप कुमार यादव 22 ग्रेनेडियर पंजाब मुख्यालय में लांस नायक के पद पर तैनात है। संदीप अवकाश में घर आए हुए हैं। शुक्रवार देर शाम बंकी चौकी इंचार्ज संजीव कुमार ने सिपाही वीरेंद्र कुमार वर्मा के साथ गोसाइपुरवा रोड पर संदीप की बाइक का पीछा कर रोका। आरोप है कि फौजी के नशे में बाइक से तीन लोगों के साथ तेज रफ्तार में बाइक चला रहा था। जिसकी सूचना पर पुलिस ने उसे रोका तो वह हमलावर हुए और दारोगा की वर्दी फाड़ दी। दोनों पक्षों में हाथापाई हुई जिसमें दोनों पक्षों को चोट लगी। बाइक पर उसके दो साथी मनीष यादव और भोला चौहान भाग निकले, लेकिन पुलिस ने संदीप को गिरफ्तार कर लिया। 

आरोप है कि बंकी चौकी की पुलिस ने फौजी की बेरहमी से पिटाई की, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। यही नहीं पुलिस ने फौजी और उसके दोनों साथियों पर गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। शनिवार सुबह जब फौजी के वकील रिश्तेदार साथी वकीलों के साथ पहले कोतवाली पहुंचे। जिला अस्पताल में मेडिकल परीक्षण के दौरान भी वकीलों ने वहां नारेबाजी कर हंगामा किया। इसके बाद जब न्यायालय में पेश कराने के लिए पुलिस फौजी को लेकर पहुंची तो वहां भी जमकर हंगामा हुआ। जानकारी पर एएसपी आरएस गौतम, सीओ सिटी, सदर सहित कई थानों की पुलिस पहुंच गई। उधर जानकारी पर बाराबंकी बम डिस्पोजल से आर्मी के दारोगा कातोरे व अन्य पदाधिकारी पहुंचे। 

प्रकरण की गंभीरता व पुलिस पर लगे आरोप के ²ष्टिगत फौजी का दोबारा मेडिकल कमांड अस्पताल में कराया गया। इसके बाद कोतवाली नगर से ही फौजी को पुलिस को जमानत पर छोड़ना पड़ा। सीओ सिटी एसके सिंह ने बताया कि फौजी को छोड़ दिया गया है। मामले की जांच चल रही है।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।