गोंडा - विकासखंड छपिया के वीरपुर में पेयजल के संसाधन इंडिया मार्क हैंडपंपों की बुरी दशा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 26 September 2019

गोंडा - विकासखंड छपिया के वीरपुर में पेयजल के संसाधन इंडिया मार्क हैंडपंपों की बुरी दशा


रिपोर्ट - राकेश सिंह 

योजनाएं बन रही हैं, लेकिन सही ढंग से क्रियान्वयन नहीं होने के कारण योजना का उद्देश्य सफल नहीं हो पाता। पेयजल के संसाधन इंडिया मार्क हैंडपंपों की बुरी दशा है। किसी गांव में जहर उगल रहा है तो कहीं झाड़ियों के बीच टूटा पड़ा है। लोग पेयजल के बदले प्रदूषित जल पीने को मजबूर हैं। छपिया ब्लाक के गांव ग्राम पंचायत बीरपुर में लगभग पांच इंडिया मार्का हैंडपंप खराब हैं और पांच लगे हैं एक भी क्रियाशील नहीं है कुछ की स्थिति ऐसी है कि वहां तमाम झाड़ियां उत्पन्न हो चुकी हैं प्राथमिक विद्यालय बीरपुर द्वितीय में पेयजल की व्यवस्था बेहद खराब है जिसमें बच्चों को शुद्ध जल के लिए इधर-उधर भटकना पड़ता है प्रधानाध्यापक द्वारा एक छोटा न लगाकर के विद्यालय का कार्य कराया जा रहा है और प्राथमिक विद्यालय बीरपुर द्वितीय में साफ सफाई की बेहद स्थिति खराब है प्राथमिक विद्यालय के उत्तर तरफ तालाब होने के कारण प्रधानाध्यापक हमेशा परेशान रहते हैं कि कहीं कोई दुर्घटनाएं ना हो जाए जिसके कारण से उन्होंने विद्यालय में बाउंड्री ना होने की स्थिति में लकड़ी द्वारा बांधकर रोक लगाया है और विद्यालय के दक्षिण तरफ रोड होने से भी दुर्घटना के संभावनाएं बढ़ गए हैं इसके लिए प्रधानाध्यापक द्वारा बताया गया 1 ग्राम प्रधान वीरपुर को बहुत बार रिबोर के लिए सूचनाएं दी गई लेकिन ग्राम प्रधान द्वारा इस पर कोई कार्रवाई नहीं कराया गया प्रधानाध्यापक द्वारा विद्यालय में नल किस दिन खराब होने की स्थिति को विभाग को भी सूचनाएं प्रारूप पर भर कर दी गई सहित अधिकतर गांवों में लगे इंडिया मार्क हैंडपंप खराब पड़े हैं। ग्रामीणों का कहना है कि इस समस्या से कई बार जिम्मेदार लोगों से अवगत कराया गया, बावजूद इसके समाधान नहीं हुआ।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।