कानपुर : प्रधानों ने कोरोना महामारी की व्यवस्था , रोकथाम सहायता हेतु 01 लाख 32 हजार रूपये जिला सदभावना सहयोग समिति को प्रदान किये* - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

Tahkikat News App

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 8 April 2020

कानपुर : प्रधानों ने कोरोना महामारी की व्यवस्था , रोकथाम सहायता हेतु 01 लाख 32 हजार रूपये जिला सदभावना सहयोग समिति को प्रदान किये*


ब्यूरो कानपुर देहात:अरविन्द शर्मा

कानपुर देहात।वैश्विक महामारी कोविड 19 से निपटने के लिए मुख्य विकास अधिकारी श्री जोगिंदर सिंह को विकास खंड रसूलाबाद प्रधान संघ अध्यक्ष सुभाष तिवारी के नेतृत्व में  ब्लाक के 36 ग्राम प्रधानों ने एक से तीन माह का मानदेय एक लाख 32 हजार रुपये एकत्रित कर सौंपा।  जिसको सीडीओ जोगिंदर सिंह ने सदभावना समिति में जमा करा दिया। 
  वैश्विक महामारी से निपटने के लिए प्रधान संघ ने तीन से एक माह का मानदेय देकर धनराशि एकत्रित किया। जिसमें ग्राम प्रधान दशहरा राज बहादुर सिंह, महेरा प्रधान अर्जुन सिंह, सिसाही प्रधान अनवर हुसैन, कटारा प्रधान सुभाष तिवारी, गहलू प्रधान रामकेश, मुलही प्रधान अवधेश कुमार, नारखुर्द प्रधान ऊषा अवस्थी, नारखास प्रधान कमलेश तिवारी, दया प्रधान सपना तिवारी, असलतगंज प्रधान मुमताज अहमद, तिषती प्रधान सपन शुक्ला, दलिकपुर महाराज प्रधान हरिओम तिवारी, सिठऊँपुरवा रामविलास, दहेली जसमेर, लालगांव मधुलता तिवारी, मानपुर गजेन संजय दुबे, सिठऊमताना जितेंद्र यादव, मकरंदपुर कहिझरी अंजू पांडेय, भारामऊ अरविंद यादव, इंद्रपुर लालू राम प्रसाद, मित्रसेनपुर कहिझरी अजय पाल, राना इटाहा यतेन्द्र कुमार, पहाड़ीपुर राकेश यादव, हीकेपुर प्रताप सिंह, समायू जगदीश राजपूत, ताजपुर रामलखन, अटिया रायपुर रणविजय सिंह, गंभीरा छविराम, भीतरगांव ललित दुबे, भीटीकुर्सी उमाशंकर ने मानदेय दिया। सीडीओ को धनराशि  प्रधान संघ अध्यक्ष सुभाष तिवारी, भारामऊ प्रधान अरविंद यादव, ग्राम प्रधान नारखुर्द प्रतिनिधि कपिल अवस्थी ने सौंपी। डीडीओ प्रद्युम्न कुमार यादव, पीडी डीआरडीए दिनेश यादव, डीपीआरओ शिवशंकर सिंह आदि मौजूद रहे।


No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।