मानव सेवा कृष्णा मिशन हास्पिटल का संकल्प - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 26 June 2020

मानव सेवा कृष्णा मिशन हास्पिटल का संकल्प

आलोक चौधरी बस्ती

मानव सेवा कृष्णा मिशन हास्पिटल का संकल्प


 बस्ती ।श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल बरगदवा के चेयरमैंन बसन्त चौधरी ने कहा है कि हास्पिटल की स्थापना पीड़ित मानवता की सेवा के लिये किया गया है। कोरोना संकट काल में जब अधिकांश निजी हास्पिटल, नर्सिंग होम बंद हो गये ऐसे कठिन समय में हास्पिटल प्रबंधन ने निर्णय लिया कि अस्पताल की सेवायें जारी रखी जायेगी।
 जब अनेक अस्पतालों से मरीज वापस कर दिये जा रहे थे श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल में उनका विधिवत इलाज हुआ और अनेक गंभीर मरीजो की प्राण रक्षा में चिकित्सक, स्वास्थ्यकर्मी सफल रहे। चेयरमैंन बसन्त चौधरी ने कहा कि अभी तो कोरोना मरीजों का मिलना जारी है, स्थिति सुधरने के बाद हास्पिटल के सभी चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों को उनकी विशेष सेवा के लिये समारोहपूर्वक सम्मानित कर उनका उत्साहवर्धन किया जायेगा।
चेयरमैन बसन्त चौधरी ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति के माध्यम से कहा कि किसी भी व्यक्ति या मरीज के चेहरे पर यह नहीं लिखा होता कि वह कोरोना का मरीज है। चिकित्सक का पहला धर्म है सेवा, अस्पताल में कोरोना से बचाव हेतु डब्लू.एच.ओ. और स्थानीय निर्देश, मुख्य चिकित्साधिकारी के आदेश का पूर्णतया पालन किया जाता है।
 समूचा अस्पताल प्रतिदिन सेनेटाइज करने के साथ ही चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों को बचाव हेतु समूचे संसाधन उपलब्ध कराये गये हैं। कहा कि कुछ लोग अफवाह उड़ा रहे हैं कि अस्पताल की सेवायें बंद हैं, यह सरासर झूठ है। अस्पताल की ओ.पीडी., आकस्मिक सेवा, आपरेशन पूर्व की भंाति चल रहा है। उन्होने भरोसा दिलाया कि संकट काल में हम जिम्मेदारियों से मुंह नहीं मोड़ेंगे, यदि सरकार और शासन ने अनुमति दिया तो विशेष वार्ड बनाकर पूरी सुरक्षा के साथ अस्पताल में कोरोना मरीजों को भी इलाज की सुविधा उपलब्ध कराया जायेगा।
  किसी भी मरीज के साथ घृणा की जगह उन्हें स्नेह और समुचित उपचार दिये जाने की जरूरत है। इस मानव सेवा के संकल्प के साथ श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल शासन के दिशा निर्देश के अनुरूप सेवायें जारी रखेगा। यही नहीं सरकार की महत्वाकांक्षी योजना आयुष्मान भारत के द्वारा मरीजों की सेवा लगातार जारी है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।