बलरामपुर : दहेज की बलि चढ़ी बेटी के न्याय के लिए दर-दर भटक रहा पिता - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

Tahkikat News App

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 4 June 2020

बलरामपुर : दहेज की बलि चढ़ी बेटी के न्याय के लिए दर-दर भटक रहा पिता

हंसराज शर्मा बलरामपुर

दहेज की बलि चढ़ी बेटी के न्याय के लिए दर-दर भटक रहा पिता

आरोपियों को पुलिस नहीं कर रही है गिरफ्तार कानून को दे रहे हैं खुली चुनौती

बलरामपुर । थाना छेत्र सादुल्लाहनगर में बीते दिन ग्राम जफराबाद निवासी फूलचंद पुत्र मनोरथ ने दिए तहरीर में आरोप लगाया था  उसकी लड़की सुमन वर्मा की शादी 29 मई 2015 को जगत राम पुत्र रामदेव ग्राम फतलहापुर मौजा कुरथुवा थाना सादुल्लाहनगर बलरामपुर के साथ हुई थी शादी में दिए गए दान व उपहार से ससुराल जन नाखुश थे और लगातार नगदी व मोटरसाइकिल की मांग कर रहे थे जिसकी वजह से लड़की को शारीरिक व मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे।लड़की के परिवार गरीब होने के कारण ससुराल जनों का मांग पूरा ना कर सका इसी को लेकर लड़की के ससुराल जनों ने 12 मई को आक्रोशित हो गए और लड़की को जिंदा जला दिए जिससे लड़की की 70% जल गई।जिसके बाद जली हालत में लड़की का स्वास्थ्य केंद्र सादुल्लाहनगर ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने बलरामपुर जिला अस्पताल रेफर कर दिया वहां से लखनऊ सिविल अस्पताल में रेफर किया गया जहां लड़की लड़की का इलाज चल रहा था और बीते 14 मई को इलाज के दौरान लड़की की मौत हो गई।
फ़िलहाल तहरीर के आधार पर सादुल्लाहनगर पुलिस ने  मामला दर्ज कर लिया गया।लेकिन आज तक लगभग 2 हफ्ते बीत जाने के बाद आज तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई।इस संबंध में पीड़ित पक्ष ने राज्य महिला आयोग लखनऊ,पुलिस महानिदेशक लखनऊ, पुलिस महानिरीक्षक गोरखपुर,मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश,राज्य मानवाधिकार,तक न्याय के लिए गुहार लगाई।
इस संबंध में क्षेत्राधिकारी उतरौला मनोज कुमार से दूरभाष पर बात हुई तो उन्होंने भी बताया अभी तक जीडी नहीं आई है 
 आने के बाद ही कुछ हो पाएगा।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।