गौवंशो के भूसे का भी अफसर बना रहे हैं अपना निवाला, भूसा खरीद व गायों की संख्या मे कर डाला घोटाला - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 27 June 2020

गौवंशो के भूसे का भी अफसर बना रहे हैं अपना निवाला, भूसा खरीद व गायों की संख्या मे कर डाला घोटाला

ब्यूरो कानपुर देहात:अरविन्द शर्मा


गौवंशो के भूसे का भी अफसर बना रहे हैं अपना निवाला, भूसा खरीद व गायों की संख्या मे कर डाला घोटाला


शिवली नगर पंचायत में ईओ पर लगे गंभीर आरोप एक बिल पर दो बार किया भुगतान


कानपुर देहात जनपद में गौशालाओं में जानवरों के भोजन में खेल किया जा रहा है अधिकारी अब भूसे व खाने मे भी भ्रष्टाचार कर रहे हैं जबकि योगी सरकार भ्रष्टाचार मुक्त सरकार बताकर अपनी उपलब्धियां गिना रही है लेकिन अधिकारियों के भ्रष्टाचार की एक के बाद एक परत खुलती जा रही है योगी सरकार की सबसे महत्वाकांक्षी योजना गौशालाओं में गायों को रखकर उनके पालन पोषण करने को लेकर शासन स्तर से फिलहाल ₹30 प्रति गौवंश धनराशि भेजे जाने के साथ-साथ जिले स्तर से भी अन्य मदों से आवश्यक सेवाएं हेतु धनराशि आवंटित करने की जानकारी मिली है किंतु गौशालाओं की स्थिति बेहद खराब होने के भी स्थानीय जनों ने आरोप लगाए हैं जिसका एक खुलासा शिवली नगर पंचायत में संचालित कान्हा गौशाला केंद्र का हुआ है जहां एक ट्रक में आए 21 कुंतल भूसे का दो बार भुगतान उठा लिया गया। यही नही उप जिलाधिकारी मैथा के निरीक्षण में फर्जी गौवंश दर्ज करने की पुष्टि हुई उपजिलाधिकारी को मौके पर 143 गौवंश पाए जाने की पुष्टि के सापेक्ष 188  गोवंश दर्ज कर शासन से आये धन का जिले 30 रूपये प्रति गौवंश  धनराशि काफी समय से लिए जाने का अधिशासी अधिकारी मिही लाल पर आरोप है जानकारी के मुताबिक बिहारी जी इलेक्ट्रॉनिक धर्म कांटा शिवली के रसीद संख्या 4597 ट्रक संख्या यूपी 77 एन 3267 इस वाहन से ₹650 प्रति कुंतल की दर से 21 कुंटल भूसा 3-7-2019  को लाया गया था जिसका भुगतान 4-7-2019 व 7-7-2019 को दो बार किये जाने की पुष्टि हुई है। यही नही एक अन्य मामले में उप जिलाधिकारी रामशिरोमणि ने बताया कि मेरे द्वारा 5 अक्टूबर 2019 में औचक निरीक्षण किया गया था जिसमें रजिस्टर पर 188 गोवंश दर्ज पाए गए थे किंतु मौके पर 143 गोवंश ही मौजूद मिले थे इस मामले में अधिशासी अधिकारी को पत्र संख्या 579 दिनांक 5 अक्टूबर 2019 के तहत स्पष्टीकरण मांगा था अधिशासी अधिकारी ने स्पष्टीकरण के जवाब में गौवंशो की संख्या गलत दर्ज करने की बात स्वीकार करते हुए क्षमा याचना स्पष्टीकरण में मांगी थी लेकिन इसके बावजूद भी 188 गौवंश के हिसाब से उसी माह का भुगतान उठाए जाने की भी पुष्टि हुई है अक्टूबर माह में 5523 गोवंश के 30 रूपये के हिसाब से ₹165690 धनराशि उठायी गयी। इस मामले में जिला प्रशासन को भी जानकारी है किंतु अभी तक संबंधित अधिकारी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है जबकि नगर पंचायत सिवनी के अध्यक्ष अवधेश शुक्ला ने इस संबंध में  अधिशासी अधिकारी से कई बार लिखित जवाब मांगा किंतु अभी तक अधिशासी अधिकारी द्वारा कोई लिखित जवाब नहीं प्रेषित किया गया और न ही जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा संबंधित अधिकारी पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है। वही गायों के भूसे दाने को भी अधिकारी अपना निवाला बना रहे हैं इस मामले में जिम्मेदार अफसर अनभिज्ञता जता रहे जबकि सूत्रों की माने तो अन्य नगर पंचायतों में भी गौवंशो की संख्या में फर्जीवाड़े की सुगबुगाहट है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।