युवाओं ने इसे युवा विरोधी बताते हुए काले कानून का नाम दिया - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 18 September 2020

युवाओं ने इसे युवा विरोधी बताते हुए काले कानून का नाम दिया

बस्ती ब्यूरो

युवाओं ने इसे युवा विरोधी बताते हुए काले कानून का नाम दिया 

बस्ती। सरकारी नौकरियों की मांग और प्रदेश में सरकारी नौकरियों में पहले पांच वर्ष संविदा पर नियुक्ति दिए जाने के विरोध में गुरुवार को आल बीटीसी वेलफ़ेयर एसोसिएसन के प्रदेश महासचिव आयुष शुक्ल के नेतृत्व में सैकड़ो युवाओं ने जिलाधिकारी कार्यालय पहुँचकर ज्ञापन दिया। युवाओं ने इसे युवा विरोधी बताते हुए काले कानून का नाम दिया है।

आयुष शुक्ल ने चिंता जताते हुए कहा कि अगर सरकार सरकारी नौकरियों में पहले पांच साल कर्मचारियों को संविदा पर नियुक्त करने और हर छ: माह पर उनकी परीक्षा लेने के अपने निर्णय में सफल हो गई तो गरीब, मजदूर, निम्न मध्यम वर्ग से आने वाले युवाओं का शोषण होगा।


उत्तम मिश्रा ने कहा कि सरकार युवाओं को रोजगार न देना पड़े इस लिए सरकारी नौकरियों में तरह - तरह की बाधाए डाल रही है। ज्योतिष पाण्डेय ने कहा कि अगर आज हमने आवाज नहीं उठाई तो भविष्य में कोई भी सरकार युवाओं को रोजगार नहीं देगी। नौकरियों की मांग के लिए सैकड़ों युवा विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।

     इस मौके पर पवन मौर्य, मेराज़, ऋषभ भार्गव, देवेंद्र कुमार चौधरी,आदित्य पाण्डेय, ज्योतिष पाण्डेय, विजय कुमार, उत्तम मिश्रा, शैलेन्द्र,प्रदीप कुमार, अशोक कुमार, अरुन चौधरी समेत सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।