गोण्डा:बीएसए ने की बड़ी कार्रवाई फर्जी अभिलेख लगाकर कर रहे नौकरी 8 सहायक अध्यापक बर्खास्त - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 9 October 2020

गोण्डा:बीएसए ने की बड़ी कार्रवाई फर्जी अभिलेख लगाकर कर रहे नौकरी 8 सहायक अध्यापक बर्खास्त

राकेश सिंह गोण्डा 

बीएसए ने की बड़ी कार्रवाई फर्जी अभिलेख लगाकर कर रहे नौकरी 8 सहायक अध्यापक बर्खास्त

गोण्डा । बेसिक शिक्षा परिषद की शिक्षक भर्ती में दूसरे का अभिलेख लगाकर सहायक अध्यापक की नौकरी कर रहे मामले में जांच के बाद बीएसए ने आठ अध्यापकों की सेवा समाप्त करते हुए  समबन्धित क्षेत्र के खण्ड शिक्षा अधिकारी को रिपोर्ट दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं इसमें पांच ऐसे अध्यापक है जो लंबे समय से बिना कारण बताये लंबे समय से अनुपस्थित चल रहे थे उनकी भी सेवा समाप्त की कार्यवाई की गयी है ।
बताते चले कि बीएसए डाॅ. इंद्रजीत प्रजापति ने बताया कि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी फिरोजाबाद ने देवेंद्र प्रताप सिंह उनके यहां प्राथमिक विद्यालय कल्हारी में तैनात हैं। मानव संपदा पोर्टल पर ई सर्विस बुक के संशोधन के दौरान पता चला कि जिले के प्राइमरी स्कूल त्रिभुवन नगर ग्रंट में इसी नाम का शिक्षक कार्यरत है। इसको लेकर संबंधित शिक्षक को नोटिस भेजा गया लेकिन, वह पक्ष प्रस्तुत करने नहीं आया। इसी तरह बभनजोत के प्राथमिक विद्यालय उत्तरी में कार्यरत शिक्षक कविराज विमल का अभिलेख संदिग्ध मिला। वह लंबे समय से अनुपस्थित भी है। नोटिस भेजा गया था लेकिन, वह उपस्थित नहीं हुआ।


तथा इसी तरह  हलधरमऊ के प्राथमिक विद्यालय सेल्हरी के सहायक अध्यापक अमित कुमार व मुरावन पुरवा के अनिल कुमार, छपिया के प्राथमिक विद्यालय सिकरी तप्पाकोट के विनोद यादव, नवाबगंज के प्राइमरी स्कूल कोल्हनपुर विशेन की शिक्षक नेहा गर्ग, वजीरगंज के पूर्व माध्यमिक विद्यालय नियामत पुर के नरेंद्र सिंह व प्राथमिक विद्यालय कोमर की पूजा गुप्ता लंबे समय से स्कूल नहीं आ रहे हैं। इनको नोटिस भेजकर कार्यालय में उपस्थित होने का निर्देश दिया गया था लेकिन,आज तक उपलब्ध नही हुए  अभिलेख लेकर नहीं आए। ऐसे में सभी आठ शिक्षकों की सेवा समाप्त कर दी है। फर्जी अभिलेखो के सहारे नौकरी करने वाले शिक्षकों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश भी दिए है। 

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।