VARANASI समाजवाद चिंतक शिक्षा विद् प्रो त्रिपाठी को समाजवादी व सामाजिक विज्ञान विभाग ने दी श्रद्धांजलि - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 15 October 2020

VARANASI समाजवाद चिंतक शिक्षा विद् प्रो त्रिपाठी को समाजवादी व सामाजिक विज्ञान विभाग ने दी श्रद्धांजलि

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

समाजवाद चिंतक शिक्षा विद् प्रो त्रिपाठी को समाजवादी व सामाजिक विज्ञान विभाग ने दी श्रद्धांजलि   
            

वाराणसी । सम्पूर्णानन्द संस्कृत विश्वविद्यालय के सामाजिक विज्ञान विभाग और पत्रकारिता एवम् जनसंचार स्नाकोत्तर पाठ्यक्रम के पूर्व विभागाध्यक्ष एवं निदेशक प्रो सोमनाथ त्रिपाठी जी के आकस्मिक निधन होने के कारण बुधवार को सामाजिक विज्ञान विभाग के संगोष्ठी कक्ष में एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। श्रद्धांजलि सभा में उपस्थित वरिष्ठ समाजवादी विचारकों, विश्वविद्यालय के वरिष्ठ आचार्यों ने प्रो सोमनाथ त्रिपाठी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वे जीवन में बहुत संघर्ष शील व्यक्तित्व के थे, जीवन के हर क्षण में समाजवाद के बारे में सोचते थे और किसान आन्दोलन को लेकर हमेशा सक्रिय रहते थे। वक्ताओ ने उन्हें बहुमुखी प्रतिभा का धनी बताते हुए कहा कि वे विभिन्न विचारधाराओं वाले व्यक्तियों को एक साथ बैठाने का कार्य करते थे। अंग्रेजी हटाओ आंदोलन से लेकर किसान आन्दोलन तक के संघर्षों में उन्होंने ने विभिन्न विचारधाराओं के लोगों को एक साथ जोड़ने का कार्य किया है।वे समाज सेवा के लिए जीवन पर्यन्त तत्पर थे। वे मुलत समाजवादी चिंतक थे। समाजवादी विचारधारा से ओतप्रोत होने के कारण विभिन्न जन आन्दोलन से जुड़े थे। समतामूलक समाज की स्थापना सामाजिक समरसता के प्रबल पक्षधर थे।वक्ताओ ने उनकी सामाजिक सोच के बारे में चर्चा करते हुए बताया कि उनका सोचना था कि जब तक समाज के अंतिम पायदान पर खड़े अंतिम व्यक्ति का उत्थान नहीं होगा तब तक भारत का पूर्ण विकास सम्भव नहीं है। विश्वविद्यालय के आचार्यों ने प्रो सोमनाथ त्रिपाठी को श्रद्धांजलि देते हुए बताया की अपने अध्यापन कार्य के दौरान उन्होंने सामाजिक विज्ञान विभाग के साथ साथ विश्वविद्यालय के चौमुखी विकास के लिए यथा संभव प्रयास किया। विभागाध्यक्ष रहते हुए अपने विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को पत्रकरिता जगत से जोड़ने के लिए पत्रकारिता पाठ्यक्रम चलाने का संकल्प लिया तथा अपने कौशल से उसे मूर्त्त रूप प्रदान किया। विश्वविद्यालय के जनसंपर्क विभाग के अतिरिक्त दायित्वों का भी निर्वहन किया।वक्ताओ ने उन्हें एक कुशल अध्यापक होने के साथ साथ पत्रकार, लेखक और प्रखर वक्ता भी बताया। कार्यक्रम के अन्त में उपस्थित लोगों ने दो मिनट का मौन रखकर प्रो सोमनाथ त्रिपाठी के प्रति अपनी श्रद्धांजलि व्यक्त की । श्रद्धांजलि सभा की अध्यक्षता प्रो राजनाथ जी और संचालन डॉ तुलसी दास मिश्र की। श्रद्धांजलि सभा में मुख्य रूप से प्रो शैलेश कुमार मिश्र, प्रो दुर्गा नन्दन प्रसाद तिवारी, प्रो शम्भुनाथ शुक्रवार , प्रो कमलाकांत तिवारी, प्रो हीरकक्रांति चक्रवर्ती, प्रो हर प्रसाद दीक्षित, प्रो सुनील सहत्रबुध्दे, प्रो सुरेंद्र प्रताप सिंह, राम जनम यादव, कृष्ण देव नारायण राय (पूर्व अध्यक्ष काशी पत्रकार संघ) मनोज श्रीवास्तव ( महामंत्री, काशी पत्रकार संघ) मृत्यूंजय त्रिपाठी, अफलातून देसाई, अरूण चौबे, चंचल मुखर्जी, डा लेनिन सिंह, लाल बहादुर, राजेंद्र चौधरी, डा कैलाश सिंह विकास सहित विश्वविद्यालय के अध्यापक छात्र एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।