VARANSI बी.एन.जॉन को दिए गुंडा एक्ट की नोटिस वापस लेने का डीएम ने दिए आदेश - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Thursday, 26 November 2020

VARANSI बी.एन.जॉन को दिए गुंडा एक्ट की नोटिस वापस लेने का डीएम ने दिए आदेश

कैलाश सिंह विकास वाराणसी



बी.एन.जॉन को दिए गुंडा एक्ट की नोटिस वापस लेने का डीएम ने दिए आदेश

-आदेश पत्रक में जिला मजिस्ट्रेट कौशल राज शर्मा ने कहा, आमजन में सामान्य पाई गई है बी. एन. जान की ख्याति, द्वेषपूर्ण रूप से किये गए मुकदमे

वाराणसी। जिला मजिस्ट्रेट कौशल राज शर्मा ने कैंट निवासी बी. ए. जान को 2014 में जारी उत्तर प्रदेश गुंडा नियंत्रण अधिनियम की नोटिस वापस लेने का आदेश दिया है। जिला मजिस्ट्रेट की ओर से जारी आदेश पत्रक में लिखा गया है कि विपक्षी बी.एन.जॉन पुत्र के.एम.जॉन, निवासी-बंगला नं.12 के बगल में, कैण्टोमेंट,थाना-कैंट को 10 फरवरी 2014 को जारी गुंडा नियंत्रक अधिनियम के अन्तर्गत निर्गत नोटिस वापस लिया जाता है। जिला मजिस्ट्रेट ने आदेश प्रपत्र में लिखा है कि बी.एन.जॉन. की ख्याति आमजन में सामान्य पायी गई है और इसके  अलावा उपरोक्त के विरूद्ध उ.प्र. गुण्डा नियंत्रक अधिनियम के अन्तर्गत कार्रवाई किया जाना समीचीन प्रतीत नहीं होता है। दरअसल के. बी. अब्राहम नाम के व्यक्ति द्वारा और उससे संबंधित लोगों द्वारा बी.एन.जॉन के खिलाफ कैंट थाने में दबंगई और गुंडई के विभिन्न धाराओं में तीन मुकदमें कराए गए थे। जिसके बाद प्रभारी निरीक्षक कैंट द्वारा बी.एन.जॉन पर गुंडा एक्ट लगाने की आख्या भेजी गई थी। जिसे जिला मजिस्ट्रेट ने खारिज कर दिया है। जिला मजिस्ट्रेट ने लिखा है कि मैने अभियोजन अधिकारी और विपक्षी के अधिवक्ता के तर्कों को सुना और पत्रावली पर उपलब्ध समस्त साक्ष्यों का सम्यक अवलोकन भी किया। जिससे यह लग रहा है कि बी.एन.जॉन पर द्वेषवश अभियोग पंजीकृत कराए गए हैं।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।