वाराणसी: 46 वीं उ.प्र.सूर्य नमस्कार योगासन प्रतियोगिता का भव्य आयोजन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 12 December 2020

वाराणसी: 46 वीं उ.प्र.सूर्य नमस्कार योगासन प्रतियोगिता का भव्य आयोजन

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

46 वीं उ.प्र.सूर्य नमस्कार योगासन प्रतियोगिता का भव्य आयोजन

 वाराणसी महायोगी स्व. मिठाई लाल सोनकर जी के स्मृति में आयोजित 45 वीं उत्तर प्रदेश सूर्य नमस्कार योगासन प्रतियोगिता का भव्य आयोजन योग नगर नगवा स्थित अन्तर्राष्ट्रीय योग प्रशिक्षण आश्रम में भव्य आयोजन हुआ। प्रतियोगिता का शुभारम्भ  मुख्य अतिथि नगवा पार्षद रविन्द्र कुमार सिंह व विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ  भाजपा नेता  मोहितोश नरायन सिंह व कार्यक्रम सयोजक योगाचार्य गणेश प्रसाद सोनकर जी द्वारा सामूहिक दीप प्रज्वलन व मंगला चरण ,गणेश वंदना के साथ प्रतियोगिता का शुभारम्भ हुआ।

 योगाचार्य गणेश प्रसाद सोनकर जी ने महायोगी स्व.मिठाई लाल सोनकर जी के चित्र पर माल्यार्पण कर अतिथियों का स्वागत कर स्मृति चिन्ह भेंट किया। प्रतियोगिता नगर के कई विद्यालयों से 100 बच्चो ने अपनी योग कला का प्रदर्शन कर पुरस्कार प्राप्त किया जिसमें प्रतिभागियों ने मुख्य रूप से सूर्य नमस्कार ,गर्भासन,कुकुट आसन ,उठिथ पद्मासन,चक्र आसन,मयूर आसन आदि कठिन योग आसनों  का प्रदर्शन करके उपस्थित जनमानस के मंत्र मगध के दिया ।मुख्य अतिथि ने कहा कि योग हमारी प्राचीन पधिती है जिसको आज के समय में आगे बढ़ाने की आवश्यकता है अतः इस प्रकार के कार्यक्रम निरन्तर होना चाहिए।कार्यक्रम संयोजक योगाचार्य गणेश प्रसाद सोनकर ने कहा कि योग: कर्मशु कोशलम अर्थार्थ कर्मो की कुस्लता ही योग है।पुरस्कार वितरण के मुख्य अतिथि विधायक सौरभ श्रीवास्तव जी ने सभी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया ।और कहा योग हमारी भारतीय संस्कृति है। कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन श्री भरत भुसने जी ने राष्ट्र गान के साथ कार्यक्रम का समापन किया कार्यक्रम का  सहसंयोजन ऋषि सोनकर के किया।कार्यक्रम योगाचार्य गणेश प्रसाद सोनकर जी के देख रेख़ में समपन हुआ।प्रतियोगिता में उपस्थित प्रमुख्य लोगो में डॉ रविन्द्र शिंह,महिपाल ,,गोविंद यादव, ,हेमंत सरना,विनय मौर्य,प्रो एन. बी. शुक्ला ,आर्यन सिंह आदि गणमान्य लोग उपस्थित थे।


No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।