गायत्री की कृपा से सारे मनोरथ सिद्ध होते हैं - विष्णुचित्त यति स्वामी - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 22 December 2020

गायत्री की कृपा से सारे मनोरथ सिद्ध होते हैं - विष्णुचित्त यति स्वामी

कैलाश सिंह विकास वाराणसी

गायत्री की कृपा से सारे मनोरथ सिद्ध होते हैं - विष्णुचित्त यति स्वामी 
सामनेघाट स्थित वेदमाता मंदिर में चल रहा है गायत्री महामंत्र यज्ञ        
वाराणसी।  तारपुर कालोनी, छित्तूपुर, सामनेघाट, लंका स्थित वेद माता मंदिर में चल रहे गायत्री महामंत्र जाप यज्ञ में सोमवार को प्रसिद्ध संत त्रिदंडी विष्णुचित्त यति स्वामी महाराज पधारे।  इस अवसर पर उन्होंने मां गायत्री की महिमा का वर्णन करते हुए कहा कि गायत्री की आराधना से मनुष्य के सारे पाप नष्ट हो जाते हैं। उसके सकल मनोरथ सिद्ध होते हैं। महाराज  ने कहा कि गायत्री चारों वेदों की माता है जिनसे वेदों की उत्पत्ति हुई है। शुद्ध चित्त एवं सात्विक भाव से गायत्री का पूजन आराधन करनेवाले व्यक्ति के समस्त दोषों का परिहार होकर सुख समृद्धि एवं ऐश्वर्य की प्राप्ति सं•ाव है। उन्होंने ने कहा कि ब्रह्मांड के मूल तत्व की गहन मीमांसा करते हुए परमात्मा की प्राप्ति के विभिनेन्न मार्गों में स्वामी रामानुजाचार्य द्वार सबसे सरल मार्ग है।  इस अवसर पर वैदिक एजुकेशनल रिसर्च सोसाएटी के संस्थापक अध्यक्ष ख्यातिलब्ध ज्योतिषाचार्य पं. शिवपूजन शास्त्री ने त्रिदंडी स्वामी महाराज को अंगवस्त्रम एवं स्मृति चिन्ह देकर उनका अभीनंदन किया। इस अवसर पर भूदेवों द्वारा गायत्री मंत्र का जाप किया गया।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।