नामी हस्तियों पर हत्या का आरोप , लिखा गया मुकदमा - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Wednesday, 20 January 2021

नामी हस्तियों पर हत्या का आरोप , लिखा गया मुकदमा

कृपा शंकर चौधरी ब्यूरो गोरखपुर

नामी हस्तियों पर हत्या का आरोप , लिखा गया मुकदमा

गोरखपुर। गत रात आठ बजे के करीब रामपुर कोइरान टोला के निवासी रामाश्रय मौर्य की गोली मारकर निर्मम हत्या के आरोप में ज़िले के नामी हस्तियों का नाम सामने आया है। भाई के द्वारा इनके खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया है। पुलिस कई कोणों से जांच करते हुए जल्द ही पर्दाफाश करने के जुगत में लगी है।

गौरतलब है कि रामपुर कोइराना टोला के राम आसरे मौर्या की खोराबार के भैंसहा गांव स्थित बल्ली चौराहे पर मेडिकल स्टोर है। मंगलवार की रात करीब साढ़े आठ बजे दुकान बंद कर बाइक से घर लौट रहे थे। मेडिकल स्टोर से कुछ ही दूर गए तभी किसी ने उनको गोली मार दी।  राहगीरों ने उनको गिरा देखा तो एक्सीडेंट समझकर वह नजदीक गया। तब मालूम हुआ कि उनके सिर और सीने में गोली लगी है। उसके शोर मचाने पर आसपास के लोग पहुंच गए। किसी ने पुलिस को सूचना दी। गोली मारकर हत्या की सूचना से हड़कंप मच गया। मामले की जानकारी पाकर डीआईजी—एसएसपी जोगेंद्र कुमार भी मौके पर पहुंचे। खोराबार, झंगहा और स्वॉट टीम को घटना का पर्दाफाश करने की जिम्मेदारी सौंपी। फिलहाल, पुलिस हत्या की वजह तलाशने में लगी है।

बताया गया कि एक जिला पंचायत अध्यक्ष सहित निम्न व्यक्तियों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया है जिसमें रघुनाथ, रामधनी, रामनाथ, राम दिहल, केशव सिंह, पंकज सिंह, ओम प्रकाश जैसवाल, जीवन जैसवाल, जवाहर यादव, सीमा, अभय दुबे, संजय शुक्ला और पंकज शाही है।

बताते चलें रामाश्रय मौर्य के परिवार में पत्नी सहित एक पुत्री जिसकी शादी हो चुकी है और एक 16 वर्ष का पुत्र है। पांच भाइयों के परिवार में छोटे भाई नीरज के एक दुर्घटना में मृत्यु के बाद रामाश्रय के द्वारा भाई की याद में नीरज मेडिकल स्टोर के नाम से दुकान खोली गई थी और वही प्रैक्टिस भी किया जा रहा था। अन्य तीनों भाइयों के अपने अपने परिवार है किन्तु इस घटना के बाद आपसी प्रेम भरे परिवार में तीनों भाइयों सहित बच्चों का रो-रो कर बुरा हाल है।
शाम को पोस्टमार्टम से लाश आने के बाद झंगहा के गौरीघाट पर अन्तिम संस्कार कर दिया गया।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।