दिल्ली -भारत बंद के दौरान हिंसक प्रदर्शन अब तक 7 की मौत ,पढ़े पल -पल की खबर - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 2 April 2018

दिल्ली -भारत बंद के दौरान हिंसक प्रदर्शन अब तक 7 की मौत ,पढ़े पल -पल की खबर



श्रोत -ANI और एनडीटीवी 

SC-ST एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के विरोध में आज कई दलित संगठनों ने भारत बंद का आह्वान किया 
है. भारत बंद को कई राजनीतिक पार्टियों और कई संगठनों ने समर्थन भी दिया है. संगठनों की मांग है कि अनुसूचित जाति-जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम 1989 में संशोधन को वापस लेकर एक्ट को पहले की तरह लागू किया जाए. दलित संगठनों के विरोध का सबसे अधिक असर पंजाब में देखने को मिला, जिसकी वजह से राज्य के सभी शिक्षण संस्थान, सार्वजनिक परिवहन को आज बंद रखा गया है. इस वजह से राज्य में आज होने वाले सीबीएसई के बोर्ड के पेपर रद्द कर दिए हैं. भारत बंद का असर कई राज्‍यों में देखने को मिल रहा है. बाजार बंद है तो प्रदर्शनकारियों ने रेल सेवा को सबसे ज्‍यादा प्रभावित किया है. इतना ही नहीं कहीं-कहीं पर प्रदर्शनकारी हिंसक हो गए है. वाहनों की तोड़फोड़ और आगजनी की घटनाएं सामने आईं हैं. हिंसा की घटनाएं पंजाब, राजस्‍थान, झारखंड, उत्‍तर-प्रदेश और मध्‍यप्रदेश तक पहुंच चुकी हैं. शाम 6 बजे तक मध्य प्रदेश में 5 मौतें हो गई थी, जबकि यूपी और राजस्थान से भी एक-एक की मौत की खबर है.


 

SC/ST ACT पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ भारत बंद LIVE UPDATES

-  शाम छह बजे तक मौत का आंकड़ा सात तक पहुंच चुका था. मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा 5 मौतें हुईं, जबकि यूपी और राजस्थान से भी एक-एक की मौत की खबर है.
- भारत बंद के दौरान हुई हिंसा में मुजफ्फरनगर में एक व्यक्ति की मौत, तीन गंभीर रूप से घायल, 35 से 40 पुलिसकर्मी और 30 से 35 प्रदर्शनकारी घायल : डीआईजी (कानून एवं व्यवस्था) प्रवीन कुमार.
- उत्तर प्रदेश में भारत बंद के दौरान हिंसा की घटनाओं में संलिप्तता के चलते चार जिलों में 448 लोगों को हिरासत में लिया गया : डीआईजी (कानून एवं व्यवस्था) प्रवीन कुमार.
1 dead,3 seriously injured & around 35 have suffered minor injuries during . There'll be an inquiry on people spreading rumors on Social Media. Detained 448 people for legal action. Only 10% of state was disrupted, there was peace in 90% of area: DIG, Law & Order, UP

- कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने और जानमाल की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए राज्यों से एहतियाती कदम उठाने को कहा गया : दलित आंदोलन पर गृह मंत्रालय का निर्देश. मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा, गृह मंत्रालय स्थिति पर करीब से नजर रखे हुए है और राज्यों के लगातार संपर्क में है, केंद्रीय बल उपलब्ध कराए गए: मंत्रालय प्रवक्ता.
- राजस्‍थान के हिंडोन सिटी में रेलवे स्टेशन में तोड़ फोड़ की गयी और रोडवेज बस और तहसीलदार की गाड़ी को आग के हवाले कर दिया गया.
- सीकर और नीम का थाना में पुलिस पर पथराव और पुलिस की गाड़ी जला देने पर जिला प्रशासन ने धरा 144 लगा दी है और इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं.
- अलवर के साथ साथ सीकर, बाड़मेर, दौसा, जोधपुर और जयपुर में भी हिंसक प्रदर्शन हुए हैं. बाड़मेर में पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठी चार्ज किया.
- राजस्‍थान में भी भारत बंद के दौरान हिंसा की खबर है. अलवर के एसपी राहुल प्रकाश खुद भीड़ को काबू करने के लिए सड़क पर उतरे, हवाई फायरिंग भी की. अलवर में दलित संगठनों के प्रदर्शन के चलते भीड़ दो जगहों पर हिंसक हो उठी. अलवर शहर और खैरताल क़स्बे में पुलिस थाने में आगजनी की कोशिश हुई. फायरिंग में एक युवक की मौत हो गयी और 2 घायल हो गए.
- भारत बंद के दौरान हिंसा में मध्‍य प्रदेश में 4 लोगों की मौत हो गई है. आईजी (कानून व्‍यवस्‍था) ने इस बात की पुष्टि की है. उन्‍होंने बताया कि ग्‍वालियर में 2 लोगों की मौत हुई है जबकि भिंड और मुरैना में एक-एक शख्‍स की जान गई है.
- भारत बंद के दौरान मेरठ में गोली लगने से एक आंदोलनकारी की मौत 
- भारत बंद के दौरान ग्‍वालियर में 19 लोग घायल जिनमें से दो की हालत गंभीर बनी हुई है. मंगलवार शाम छह बजे तक इंटरनेट सेवा को रोका गया.

- मध्‍यप्रदेश के मुरैना में एक व्‍यक्ति की मौत हो गई है. इसके बाद मध्‍यप्रदेश में कर्फ्यू लगा दिया गया है. एक लोकल चैनल का एक पत्रकार भी घायल हो गया है. 

- मध्‍यप्रदेश के ग्‍वालियर में प्रदर्शनकारियों ने कई वाहनों में आग लगाई. वहीं प्रदर्शनकारियों द्वारा फायरिंग करना का वीडियो भी सामने आया है. 

over SC/ST protection act:Shots fired during protests in Madhya Pradesh's Gwalior

- गुजरात के कच्‍छ में गांधीधाम पर प्रदर्शनकारियों ने वाहनों पर लगाई आग, इस दौरान महिला प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर उतर नारेबाजी भी की.  


- दिल्ली के सभी रेलवे स्टेशनों को हॉई अलर्ट पर रखा गया है. दिल्ली पुलिस का कहना है की दिल्ली के सभी रेलवे स्टेशनों की सीमा के किसी भी प्रदर्शन करने की अनुमित नहीं है. अगर कोई कानून का पालन नहीं करेगा तो सख्त एक्शन लिया जाएगा. दिल्ली फायर सर्विस के सभी स्टेशनों को भी हॉई अलर्ट पर किया गया है, ताकि कोई भी आगजनी की घटना को तुरन्त काबू में किया जा सके.

- केन्‍द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने कहा कि हम समझते हैं कि लोग प्रदर्शन क्‍यों कर रहे हैं पर विपक्ष इस पर राजनीति क्‍यों कर रहा है? उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने डॉ. भीम राव अंबेडकर को कभी भारत रत्‍न नहीं दिया लेकिन अब उनके अनुयायियों की तरह दिखा रहे हैं. 

- यूपी में मेरठ के बाद हापुड में भी प्रदर्शन हिंसक हो गया और कई वाहनों पर आग लगाई. 


- गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हमने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की है. मैं सभी राजनीतिक दलों और संगठनों से अपील करता हूं कि वह शांति बनाएं रखें और किसी तरह की हिंसा ना करें.
-  दलितों के प्रदर्शन को लेकर कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया है. राहुल ने कहा है कि दलितों को भारतीय समाज के सबसे निचले पायदान पर रखना आरएसएस /बीजेपी के डीएनए में है, जो इस सोच को चुनौती देता है उसे वे हिंसा से दबाते हैं. उन्‍होंने कहा कि हजारों दलित भाई-बहन आज सड़कों पर उतरकर मोदी सरकार से अपने अधिकारों की रक्षा की मांग कर रहे हैं. हम उनको सलाम करते हैं.
दलितों को भारतीय समाज के सबसे निचले पायदान पर रखना RSS/BJP के DNA में है। जो इस सोच को चुनौती देता है उसे वे हिंसा से दबाते हैं।

हजारों दलित भाई-बहन आज सड़कों पर उतरकर मोदी सरकार से अपने अधिकारों की रक्षा की माँग कर रहे हैं।

हम उनको सलाम करते हैं।

- भारत बंद को लेकर हो रही हिंसा पर यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने लोगों से अपील की है कि कानून व्‍यवस्‍था को ना बिगाड़े. उन्‍होंने कहा कि अगर किसी को कोई दिक्‍कत है तो सरकार के संज्ञान में लाए. 

- मेरठ में प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया. मेरठ में प्रदर्शनकारी हिंसक हो गए थे और कारों में आग लगा दी थी जबकि शांतिपूर्वक प्रदर्शन करने की बात कही गई थी. 


- ग्‍वालियर में हिंसा के बाद 4 थानों पर कर्फ्यू लगाया गया
- मुरैना में भी कर्फ्यू लगाया गया है. देवास में टेलों वालों की सब्जियां गिरा दी गई है. कई जगहों पर दुकानदारों ने प्रदर्शकारियों की मांग मानने से इंकार कर दिया तो वहां झड़प की खबरें सामने आई. 

- यूपी में भी बंद का असर दिखाई दे रहा है. कई जगह ट्रेनों को रोका गया है. तो मेरठ में प्रदर्शनकारियों ने कार के शीशे तोड़े दिए. 

- राजस्‍थान में कई जगह प्रदर्शनकारियों ने ट्रेनों को रोका तो कहीं सड़क पर चक्‍का जाम किया. इतना ही नहीं बाड़मेर में प्रदर्शनकारी हिंसक हो गए. इस दौरान उन्‍होंने सड़क पर खड़ी कारों पर आग लगा दी और इतना ही नहीं संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया.
View image on TwitterView image on Twitter
over SC/ST protection act: Protest turns violent in Barmer, cars and property damaged.

- पंजाब के पटियाला में प्रदर्शनकारियों ने रोकी ट्रेन 

- राजस्‍थान के भरतपुर में भी प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतरें 
View image on TwitterView image on Twitter
over SC/ST protection act: Visuals of protest from Rajasthan's Bharatpur

- यूपी की आगरा में भी प्रदर्शन 
 

- प्रदर्शनकारियों ने फारबिसगंज में ट्रेन रोकी 

- बंद का भोजपुर में भी दिख असर, सड़क पर पसरा रहा सन्नटा, सभी दुकानें बंद और परिचालन भी हुआ ठप.

- बिहार के अररिया सीपीआईएमएल के कार्यकर्ताओं ने आरा ब्‍लॉक पर ट्रेन को रोका 
View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
over SC/ST protection act: Different groups including CPIML activists protest in Bihar's Arrah, block a train


टिप्पणियां
- कांग्रेस प्रवक्‍ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि SC/ST एक्ट पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर निश्चित तौर पर रिव्यू पिटिशन डाला जाना चाहिए. सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के सामने ठीक से पक्ष क्यों नहीं रखा, इसकी जांच होनी चाहिए.
Ofcourse a review petition(SC/ST protection act) should be filed and its the right of the Government,its a legal procedure. The basic question is to why they were unable to present the case properly before SC and lost, inquiry needed: AM Singhvi,Congress


- भारत बंद का पंजाब के अमृतसर में व्‍यापक असर, बाजार बंद और सुरक्षाबल तैनात 

- बिहार में भाकपा (माले) के कार्यकर्ताओं ने बिहार में ट्रेन रोकी  
bihar

- ओडिशा से संभलपुर में ट्रेन रोककर किया प्रदर्शन 
View image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
Movement of train in 's Sambalpur blocked by protesters against Supreme Court's decision on SC/ST Protection Act

- पंजाब की जनसंख्या में 32 फीसदी आबादी दलितों की है जो देश के किसी भी राज्य में सबसे ज़्यादा है. राज्य सरकार ने कहा है कि वो दलितों के कल्याण के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है.
- पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दलित समुदाय के नेताओं से आग्रह किया है कि वो अपने विरोध प्रदर्शनों के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखें
- पंजाब में बंद के चलते 4 हज़ार पुलिस के जवान, रैपिड एक्शन फोर्स भी तैनात की गई है.
- राज्य सरकार ने चेतावनी दी है कि बंद के दौरान जो भी हिंसा करता नज़र आएगा उसके खिलाफ सख़्त कार्रवाई की जाएगी. - मोबाइल इंटरनेट सेवा पर भी राज्य में आज के लिए रोक लगा दी है. 

No comments:

Post a Comment