कानपुर -नरौना और हरिद्धार से गंगा में छोड़े गए पानी के चलते गंगा के जलस्तर में लगातार बढ़ोत्तरी - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 3 September 2018

कानपुर -नरौना और हरिद्धार से गंगा में छोड़े गए पानी के चलते गंगा के जलस्तर में लगातार बढ़ोत्तरी



ब्यूरो कानपुर -शिवा 
नरौना और हरिद्धार से गंगा में छोड़े गए पानी के चलते गंगा के जलस्तर में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है |  कानपुर के गंगा बैराज से पानी छोड़े जाने के बाद उससे सटे कटरी इलाके के कई गावो में पानी पहुंचना शुरू हो गया है | कटरी के कई गावो के घरो में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है जिसके चलते लोगो को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है | इसी इलाके के कई स्कूल भी जलमग्न हो गए है जिसके चलते स्कूलों में छुट्टी कर दी गयी है | बाढ़ पीड़ितों को राहत देने के लिए जिला प्रशाशन के अधिकारी लगातार दौरा कर रहे है | 

 कानपुर में गंगा जलस्तर लगातार बढ़ने की वजह से कटरी के कई गांव में बाढ़ का पानी घुसना शुरू हो गया है | यंहा करीब पांच हजार परिवार प्रभावित हो रहे है लेकिन चेतावनी के बाद भी कई अपना घर नहीं छोड़ रहे है | जिला प्रशाशन की तरह से बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत शिविर बनाया गया है जंहा पर जो ज्यादा प्रभावित है वो लोग शरण लिए हुए है |  गंगा बैराज से सटे गंगा कटरी के नत्थापुरवा,,लुधवाखेड़ा,,चैनपुरवा में बाढ़ का पानी पहुंच चुका है | चैनपुरवा में जिनके घर उचाई पर बने है वो तो सुरक्षित है लेकिन जो घर नीचे बने है वो बाढ़ की चपेट में आ चुके है | लोगो के घरो में रक्खा राशन व जरुरत का सामान बाढ़ के पानी में समा गया है | जिनका खाने पीने का सामान बाढ़ में बबह गया है उनके लिए खाने पीने का बंदोबस्त किया गया है | जिला प्रशाशन बाढ़ पीड़ितों को राहत पहुंचाने के लिए लगातार दौरा करके हालातो की जानकारी ले रहा है |  मौक़ा मुआयना करने पहुंचे तहसीलदार का कहना है की तीन गांव और इससे जुड़े चार मजरे बाढ़ से प्रभावित हुए है लेकिन आबादी अभी सुरक्षित है |  बाढ़ की स्थिति को देखते हुए जिला प्रशाशन की तरफ से नावे लगा दी गयी है और खाने पीने की पूरी व्यवस्था की गयी है |  अगर आवश्यकता पड़ेगी तो इन सभी लोगो को राहत शिविर में पहुंचाया जायेगा | 


ग्राम प्रधान से बाढ़ को लेकर जॉब बात की गयी तो उन्होंने बताया कि गांव बाढ़ से प्रभावित है कटरी इलाके के चार गांव पानी से घिर चुके है | बाढ़ के पानी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है अगर इसी तरह से पानी बढ़ता रहा तो लोगो का पलायन शुरू हो जायेगा | प्रधान का कहना है की यंहा पर तीन स्कूल है जिसमे से दो स्कूलों में पानी घुस गया है जिसकी वजह से स्कूलों की छुट्टी कर दी गयी है | बाढ़ पीड़ित महिला का कहना है की घर में पानी घुस गया है जिसकी वजह से बच्चो को लेकर दुसरे के घर में रह रहे है | बाढ़ की वजह से घर में रक्खा खाने का सारा सामान पानी में बह गया |  


वी/ओ/ - गंगा कटरी में बने कई स्कूलों में बाढ़ का पानी घुसने की वजह से बच्चो की छुट्टी कर दी गयी है उनको बताया गया है की जब तक पानी कम नहीं होगा तब तक छुट्टी रहेगी | लुधवाखेड़ा प्राथमिक विद्यालय में पढ़ने वाली छात्रा ने बताया की सभी क्लासो में पानी भर गया है जिसकी वजह से छुट्टी कर दी गयी है | 
बाईट - वन्दनी (छात्रा)

No comments:

Post a Comment