कानपुर महानगर - शुभांजली अवार्ड" कार्यक्रम के लास्ट दो दिवसीय ऑडिशन का पहला दिन, ऑडिशन सम्पन्न - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Saturday, 27 October 2018

कानपुर महानगर - शुभांजली अवार्ड" कार्यक्रम के लास्ट दो दिवसीय ऑडिशन का पहला दिन, ऑडिशन सम्पन्न

ब्यूरो कानपुर - रवि गुप्ता

कानपुर महानगर ऑल इण्डिया वुमेन डेवलपमेंट एण्ड ट्रेनिंग सोसाइटी संस्था (दिल्ली) प्रदेश स्तरीय शुभांजली कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। जिसका सेमीफाइनल 13 नवम्बर 2018 व फाइनल 27 जनवरी 2019 को लाजपत भवन मोतीझील कानपुर में होगा।


इस कार्यक्रम के तहत संस्था नृत्य, गायन और वादन के अलावा अन्य हुनर रखने वाले प्रतिभावान हुनरमंदों का पूरे उत्तरप्रदेश में कम्पटीशन कराकर जजेज पैनल द्वारा चयनित  प्रतिभागियों को फाइनल में सम्मानित करेगी साथ ही संस्था द्वारा मंच से कई अन्य तरह के लोगों को समान्नित करते हुये अवार्ड दिया जायेगा।



होने वाले इस शुभांजली कार्यक्रम के लास्ट दो दिवसीय ऑडिशन का आज पहला दिन रहा जो चित्रा डिग्री कालेज नौबस्ता में सम्पन्न हुआ।
इस ऑडिशन में लगभग तीन सौ से ज्यादा प्रतिभागियों ने भाग लिया। भाग लेने वाले हुनरमंदों में नृत्य, गायन, वादन एवं अन्य कलाओं में निपुण हुनरमंदों ने भाग लिया। भाग लेने वाले प्रतिभागियों में जजेज पैनल द्वारा लगभग एक सैकड़ा से ऊपर प्रतिभागियों को सेमीफाइनल के लिये चयनित किया गया।





बाबाशिव कांटीन्यू फॉउंडेशन के चेयरमैन सर्वोत्तम तिवारी ने बताया कि शुभांजली का लास्ट ऑडिशन 28 अक्टूबर 2018 को हवेली रेस्टोरेंट लाजपत नगर में आयोजित होगा।
चित्रा डिग्री कालेज में हुये ऑडिशन में प्रदर्शन करने प्रतिभागियों में चयन करने वाले जजेज पैनल में मन्नत डाँस अकेडमी के प्रो0 राघव विश्वकर्मा, सप्तक डाँस अकेडमी के प्रो0 सिंगर मो0 शारिक, सिंगर शिवी शुक्ला, मोहित आदि रहे।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से संस्था की डायरेक्टर शुभांजली कार्यक्रम की संयोजक डॉ0 बिंदू सिंह, चित्रा कालेज के प्रबंधक सुरेश सचान, बाबाशिव-कांटीन्यू फॉउंडेशन के चेयरमैन सर्वोत्तम तिवारी, कमलेश सचान, रूपा सचान, ब्रजेंद्र सिंह गौतम, राना जैदी, शशिभान, अभिषेक, ममता श्रीवास्तव, रोहित राधाकृष्णा, नीरज लोहिया, रजत सिंह, रोहित कुमार, युवराज चौहान, रजत कुमार, कमला सिंह सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।