सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी द्वारा आयोजित सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Friday, 20 September 2019

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी द्वारा आयोजित सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन


जनपद बलिया के रसड़ा तहसील परिसर में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी द्वारा आयोजित सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ एकदिवसीय धरना प्रदर्शन को संबोधित किया।  राष्ट्रीयअध्यक्ष एवं  पूर्व कैबिनेटमंत्री रहे ओम प्रकाश राजभर ने  17 सूत्रीय ज्ञापन पत्र उपजिलाधिकारी द्वारा महामहिम राज्यपाल महोदय को  सौंपा गया जो निम्न है।



● स्नातकोत्तर तक मुफ्त एवं अनिवार्य शिक्षा लागू किया जाए।
●प्राथमिक विद्यालय से तकनीकी शिक्षा लागू किया जाए
●शिक्षा का राष्ट्रीयकरण किया जाए।
● सामाजिक न्याय समिति की रिपोर्ट लागू किया जाए ।
●उत्तर प्रदेश में गुजरात बिहार की तर्ज पर शराब बंद किया जाए।
●प्राथमिक विद्यालयों में बढ़ी फीस वापस किया जाए ।
●कर्मचारियों की पुरानी पेंशन लागू किया जाए।
●बिजली की बढ़ोतरी दरों को तत्काल वापस किया जाए ।
●किसानों को बिजली 5 हॉर्स पावर मुक्त दिया जाए ।●आवारा पशुओं द्वारा किसान भाइयों की फसलों का किए जा रहे नुकसान की भरपाई के लिए सरकार किसानों को मुआवजा दे और किसानों को छुट्टा जानवरों से मुक्ति दिलाए।
● किसानों का उनकी उपज का लाभकारी मूल्य दिया जाए
● किसानों को डीजल खाद बीज सस्ते दरों पर उपलब्ध कराई जाए
●एक देश एक टेक्स्ट के तहत पेट्रोल-डीजल को भी तत्काल जीएसटी के दायरे में लाया जाए।
● उत्तर प्रदेश के समस्त जनपदों में बिगड़ी कानून व्यवस्था को तत्काल ठीक किया जाए।
●नौजवानों बेरोजगारों को रोजगार एवं बेरोजगारी भत्ता दिया जाए
● उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद सरकारी विभागों में वर्षों से बंद सरकारी नौकरियों को तत्काल खोला जाए जिससे बेरोजगारों को नौकरी मिल सके।
● महिलाओं को 50% आरक्षण हर क्षेत्र में दिया जाए ।
● उत्तर प्रदेश का विकास तभी संभव होगा जब उत्तर प्रदेश को चार भागों में पूर्वांचल मध्यांचल हरित प्रदेश हुआ बुंदेलखंड में विभाजित किया जाएगा।

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।