बिछड़े पति पत्नी को बेटी बाप को मिलाने का एक सराहनीय कार्य कर दिखाया चौकी इंचार्ज शालिनी सहाय ने - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Tuesday, 12 November 2019

बिछड़े पति पत्नी को बेटी बाप को मिलाने का एक सराहनीय कार्य कर दिखाया चौकी इंचार्ज शालिनी सहाय ने





बिछड़े पति पत्नी को बेटी बाप को मिलाने का एक सराहनीय कार्य कर दिखाया चौकी इंचार्ज शालिनी सहाय

वर्षों से बिछड़े पति पत्नी और जन्म से ही बेटी ने अपने पिता का मुंह नहीं देखा हो ऐसे लोगों को आपस में एक दूसरे से मिलाकर एक सराहनीय कार्य  वर्षों से न्यायालय में विचाराधीन पड़ा हो इस तरीके के सराहनीय कार्य को कर के दिखाने वाली  लगातार समाचार पत्रों  और  टीवी चैनलों के सुर्खियों में रहने वाली लेडी सिंघम के नाम से प्रख्यात चौकी इंचार्ज पत्रकारपुरम सब इंस्पेक्टर शालिनी सहाय ने चंद समय में करके दिखा दिया



क्या था मामला 
 
 आपको बता दें राम नरेश यादव की पुत्री राधा यादव का विवाह चार साल पहले नारे पार गांव के राम नारायण यादव के बेटे विनोद कुमार यादव के साथ बड़ी धूमधाम के साथ हुआ था विनोद के पिता रामनारायण के कहने के मुताबिक विनोद की शादी के चार महीने बीतने के बाद राधा को मिर्गी का दौड़ा पड़ने लगा था  जिससे राधा को उसके घर भेज दिया था

   राधा को मायके भेजने के बाद राधा के पिता ने दो साल तक इलाज करवाया इलाज के बाद मायके में ही राधा ने एक अस्पताल में पुत्री को जन्म दिया फिर भी राधा के ससुराल वाले नवजात बच्ची को देखने अस्पताल नहीं गए पीड़ित राधा के पिता रामनरेश जब अपने बेटी के ससुराल पहुंचकर राधा ने पुत्री को जन्म दिया है बताया फिर भी राधा के ससुराल वालों का कलेजा नहीं पसीजा और विनोद ने राधा को ना ही अपनी पत्नी व राधा की नवजात बेटी को अपनी बेटी के रूप में स्वीकार किया

     दर-दर भटकने के बाद रामनरेश ने न्यायालय में न्याय के लिए गुहार लगाई पिछले कई वर्षों से न्यायालय ने जो न्याय राधा को नहीं दिला पाया वही कार्य पत्रकारपुरम चौकी इंचार्ज शालिनी सहाय ने कुछ चंद समय में ही कर दिखाया और आपसी समझौता कर के दोनों की विदाई करा कर बिछड़े पति पत्नी को बेटी बाप को मिलाने का एक सराहनीय कार्य कर दिखाया

No comments:

Post a Comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।