वाराणसी : गंगापुर, लोहता, बजरडीहा व मदनपुरा एरिया रेडजोन बनाकर सील - तहकीकात न्यूज़ | Tahkikat News |National

आज की बड़ी ख़बर

Monday, 6 April 2020

वाराणसी : गंगापुर, लोहता, बजरडीहा व मदनपुरा एरिया रेडजोन बनाकर सील


कैलाश सिंह विकास

 गतिविधियों एवं गलियों पर नजर रखने के लिए पुलिस द्वारा ड्रोन का भी प्रयोग किया जा रहा है


       वाराणसी।  जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने जनपद के ग्रामीण क्षेत्र अंतर्गत गंगापुर एवं लोहता तथा बजरडीहा व मदनपुरा एरिया में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद इन क्षेत्रों को रेड जोन में तब्दील कर 72 घंटे के लिए किए गए सीलिंग कार्रवाई के संबंध में बताया कि इनमे जमात से होकर आए 02, मुरादाबाद मदरसे से पढ़ कर आये 01 तथा गंगापुर में कोरोना पॉजिटिव से एक व्यक्ति की मृत्यु होने पर इन चारों क्षेत्रों में पूर्व से ही लागू लॉक डाउन को और अपग्रेड करते हुए इन एरिया को सीलिंग किया गया। उन्होंने बताया कि सीलिंग किए गए इन क्षेत्रों को रेड जोन बनाकर पूरे मोहल्ले को जहां-जहां कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति लोगों के कांटेक्ट में आया हुआ था को बांस-बल्ली लगाकर बैरिकेडिंग कर पूरी तरह सील किया गया है। वहां पर लोगों का घरों से निकलना बंद है। वहा पर बाहर से भी लोगों का प्रवेश पूरी तरह निषिद्ध किया गया है। आधा घंटा सुबह और शाम ढील दी जा रही है। ताकि लोग अपनी रोजमर्रा की आवश्यकता के अनुसार सामान ले सकें। सब्जी, आवश्यक वस्तु एवं दूध आदि का ठेला इन क्षेत्र में लगे बैरियर तक जाते हैं। अपने-अपने घरों से लोग एक-एक कर आकर सामान खरीदते हैं और पुनः अपने घरों में चले जाते हैं। 
          जिलाधिकारी ने बताया कि यहां पर केवल हेल्थ की टीम जाती है। जो पूरे प्रोटेक्टिव केयर में जाती है। एक-एक परिवार को घरों से बाहर निकाल कर सड़क पर उनका स्कैनिंग करती है। सभी लोगों का स्कैनिंग किया जा रहा है। कोरोना पॉजिटिव पीड़ित परिवारों का वहीं पर सैंपलिंग भी करके पंडित दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय भेजा जाता हैं। उन्होंने बताया कि इन चार स्थानों पर रेड जोन बनाकर सीलिंग की कार्यवाही 72  घंटे के लिए लिए किया गया, ताकि वहां जितने भी परिवार कोरोना पॉजिटिव के हैं अथवा कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए संभावित लोगों की सैंपलिंग की गई है। रिपोर्ट आने के बाद आगे देखा जाएगा। उन्होंने कहा कि यह क्षेत्र संक्रमित है और लोग अपने-अपने घरों में ही रहे। घरों से बाहर न निकलने पाए। इन गतिविधियों एवं गलियों पर नजर रखने के लिए पुलिस द्वारा ड्रोन का भी प्रयोग किया जा रहा है।

No comments:

Post a comment

तहकीकात डिजिटल मीडिया को भारत के ग्रामीण एवं अन्य पिछड़े क्षेत्रों में समाज के अंतिम पंक्ति में जीवन यापन कर रहे लोगों को एक मंच प्रदान करने के लिए निर्माण किया गया है ,जिसके माध्यम से समाज के शोषित ,वंचित ,गरीब,पिछड़े लोगों के साथ किसान ,व्यापारी ,प्रतिनिधि ,प्रतिभावान व्यक्तियों एवं विदेश में रह रहे लोगों को ग्राम पंचायत की कालम के माध्यम से एक साथ जोड़कर उन्हें एक विश्वसनीय मंच प्रदान किया जायेगा एवं उनकी आवाज को बुलंद किया जायेगा।